अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने सीआरपीएफ के काफिले पर आत्मघाती हमला के विरोध में विरोध मार्च निकल


रमेश शंकर झा
समस्तीपुर/रोसड़ा:- जिले के रोसड़ा अनुमण्डल क्षेत्र में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के रोसड़ा इकाई के द्वारा दिनांक 14 फरवरी 2019 को जम्मू से श्रीनगर जा रहे सीआरपीएफ काफिले पर पुलवामा में आतंकी संगठन जैश- ए- मोहम्मद के द्वारा काफिले के एक बस पर आत्मघाती हमला के विरोध में विरोध मार्च कॉलेज अध्यक्ष कुमार सौरव तथा छात्र संघ संयुक्त सचिव अनुपम कुमार के नेतृत्व में निकाला गया। वहीँ प्रतिरोध मार्च लोहिया नगर से शुरू होकर अनुमंडल रोड, ब्लॉक रोड, महावीर चौक होते हुए सिनेमा चौक पहुंचा जहां पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान का पुतला एवं पाकिस्तान का झंडा जलाया गया। इसके उपरांत एक प्रतिरोध सभा का आयोजन किया गया। जिसकी अध्यक्षता कॉलेज उपाध्यक्ष संजीत जयसूर्या एवं रामसेवक रजक ने संयुक्त रूप से किया।प्रतिरोध सभा को संबोधित करते हुए प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य अवनीश कुमार ने कहा कि आज सरकार जो 56 इंच का सीना दिखाया है उसे कर दिखाने की आवश्यकता है। सिर्फ कहने से कुछ नहीं होगा देश के संपूर्ण नागरिक सरकार के साथ है। सरकार कठोर से कठोर कार्यवाई करें। जिससे आतंकी को पनाह देने वाले पाकिस्तान को सबक सिखाया जा सके। वहीं पूर्व कॉलेज अध्यक्ष संतोष कुमार ने कहा कि आज देश के राजनेताओं ने सैनिकों पर प्रश्न खड़ा करके सैनिकों के मनोबल को कम करने का जो कार्य करवाया है। वह देश के साथ गद्दारी करने के समान है। आज सेना को सरकार कश्मीर में कार्य करने के लिए खुली छूट देनी चाहिए। वहीं जितने अलगाववादी नेता कश्मीर में सक्रिय हैं उन पर कठोर कार्रवाई की जाए। इस मौके पर कार्यकर्ताओं में रामनाथ राय, मुकुल कुमार पाठक, संतोष यादव, केशव कुमार सुमन, कुमार मालिक, दीपक कुमार चौधरी, अभिषेक कुमार वर्णवाल, मनीष पटवा, दीपक कुमार, सौरव सिंह, गौरव शर्मा, सागर कुमार सिंह, मृत्युंजय कुमार, राजू सहनी, राजीव राम, कृष्णा राम, मोहम्मद मुस्ताक, राकेश कुमार, धीरज कुमार, रोशन सिंह, चंद्रवंशी प्रसाद आदि सेकड़ों कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Comments are closed.