अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य द्वारा सरकार से मांग

ब्यूरो रमेश शंकर झा,समस्तीपुर बिहार
समस्तीपुर:- बीते दिन गुरुवार की रात आंधी, तूफान, बारिश और ओलावृष्टि से किसानों की फसल बर्बाद हुई है। वहीँ खेतों में लगा गेहूं, मक्का व सब्जी पूरी तरह जमीन पर गिर गई है। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य अंकित कुशवाहा ने सरकार से मांग कि है कि किसानों के फसल क्षति का मुआवजा मिलना चाहिए। फसल की आंकलन कर सरकार यथा शीघ्र मुआवजा मुहईया करावे। किसान कृषि पर आधारित रहते हैं जी जान लगाकर फसल उगाते हैं। जब वही फसल बर्बाद हो जाता है तो किसानों का माली हालत ख़राब हो जाती है । किसान दर दर की ठोकर खाने पर मजबूर है प्रकृति के कहर से किसान त्राहिमाम कर रहा है। किसानों को उचित मुआवजा मिलना चाहिए ताकि किसानों की मालि स्थिति को ठीक किया जा सके।सरकार द्वारा इस परिपेक्ष में अगर तत्काल कदम नहीं उठाया गया तो इसका प्रभाब खरीफ फसल के उत्पादन पर पड़ेगा। लगातार प्रकिर्तिक आपदा झेलने के कारण किसान आर्थिक रूप से टूट चूका है।

Comments are closed.