अन्य राज्यों में फंसे बिहारी मजदूरों की सुधी ले सरकार;उदय मंडल

रिपोर्ट;गणेश कुमार
पटना/: कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए सरकार द्वारा देश को 21 दिनों के लिए लॉक डाउन करना एक अति आवश्यक कदम है जिससे यह महामारी देश में फैल ना सके।बिहार में बेरोजगारी के कारण अधिकांश लोग अन्य शहरों जैसे दिल्ली,मुम्बई,सूरत,जयपुर,मंगलोर,हैदराबाद सहित देश के विभिन्न शहरों में नौकरी करते हैं।लॉक डाउन की स्थिति में वो अपने घरों से हजारों किलोमीटर दूर फंसे हुए हैं एवं डरे हुए हैं।ऐसी स्थिति में ना तो घर आ सकते हैं और ना हीं ज्यादा दिनों तक वहां रह सकते हैं क्योंकि बहुत से मज़दूरों के पास ना तो मकान का किराया है और ना हीं घर में राशन है।बहुत से लोग डरे हुए भी हैं।समता पार्टी प्रदेश अध्यक्ष उदय मंडल ने बिहार सरकार और भारत सरकार को पत्र लिख कर ये मांग किया है कि इनके लिए राज्य सरकार आवश्यक कदम उठाएं।तत्काल एक नंबर जारी करें जिससे उनके सही लोकेशन का पता चल सके एवं उन तक मदद पहुँचाया जा सके साथ हीं साथ उन्हें सही सलामत घर तक पहुँचाने की भी व्यवस्था होनी चाहिए।भारत सरकार ने जिस प्रकार विदेशों में फंसे भारतीय नागरिकों को सुरक्षित अपने देश लाया है वो बहुत हीं काबिल-ए-तारीफ है।सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बिहार के कुछ मजदूर जयपुर से बिहार तक पहुंचने के लिए पैदल हीं निकल चुके है उन्हें भी सही सलामत अपने घरों तक पहुंचाया जाए।

Comments are closed.