अशोक चव्हाण का विवादित बयान पहले गोरों से लड़े, अब चोरों से लड़ेंगे

आर.पी मौर्या
मुंबई | भिवंडी बाईपास से मिल्लतनगर स्थित मामू-भांजा मैदान तक एक रैली निकाली गई है मामू-भांजा मैदान में प्रदेश अध्यक्ष अशोक चव्हाण ने कहा है कि ‘जनसंघर्ष यात्रा समाप्त हुई, लेकिन संघर्ष जारी ही रहेगा। कृषि के बाद पावर लूम उद्योग सबसे अधिक रोजगार प्रदान करता है और लेकिन शासक वर्ग ने उसे बर्बाद कर दिया है। उन्होंने कहा कि पावर लूम उद्योग को कांग्रेस सरकार ने हमेशा महत्व दिया है। सस्ती बिजली दी और बुनकरों के बिल का 55 फीसद तक बकाया माफ किया गया। बैंक कर्ज भी माफ किया। फिर क्या कारण हैं कि पावर लूम इस शासन में बर्बाद हो रहे हैं।’ उन्होंने आरोप लगाया कि जीएसटी ने इस उद्योग को ठप किया है।
चव्हाण ने कहा कि पहले गोरों से लड़े थे, अब चोरों से लड़ेंगे। इस बीच उन्होंने चौकीदार चोर है का नारा बुलंद किया। सभा को सचिन सावंत, हुसैन दिलवाई, अरीफ नसीम खान, सुरेश टावरे एवं जिलाध्यक्ष शोयेब खान गुड्डू ने भी संबोधित किया। वहीं, इब्राहीम भाईजान, बीएम संदीप, मुनाफ हकीम, पूर्व विधायक अब्दुल रशीद ताहिर मोमिन एवं मोहम्मद अली खान, रानी अग्रवाल, शाह आलम शेख, विश्वनाथ पाटील, राकेश पाटील आदि कांग्रेसी कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Comments are closed.