एनडीए गठबंधन के जदयू प्रत्याशी कौशल किशोर ने किया नामांकन, उड़ी सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां

रिपोर्ट : ब्यूरो राम विलास, नालंदा, बिहार।
राजगीर;- विधानसभा क्षेत्र (सुरक्षित) में नामांकन दाखिल करने का काम जोर नहीं पकड़ रहा है। इसका कारण है कि महागठबंधन के कांग्रेस पार्टी उम्मीदवार की घोषणा अबतक नहीं हो सकी। इसी तरह लोजपा एवं अन्य प्रमुख दलों द्वारा प्रत्याशी की घोषणा बाकी है। नामांकन शुरू होने के चौथे दिन मात्र एक उम्मीदवार ने अपना नामांकन पत्र निर्वाची पदाधिकारी सह एसडीएम के पास दाखिल किया।

एनडीए गठबंधन के जदयू प्रत्याशी कौशल किशोर (मणिकांत आर्य) द्वारा सोमवार को तीन सेट में नामांकन पत्र दाखिल किया गया। उनके एक सेट के प्रस्तावक विजय कुमार सिन्हा, दूसरे सेट के प्रस्तावक संजय कुमार और तीसरे सेट के प्रस्तावक इंद्रमोहन सिंह बने। उन प्रस्तावकों के अलावे राजगीर नगर भाजपा अध्यक्ष विकास कुमार की मौजूदगी में कौशल किशोर द्वारा निर्वाची पदाधिकारी के पास नामांकन पत्र दाखिल किया गया। कौशल किशोर के नामांकन में सांसद, विधायक तो कोई शामिल नहीं ही हुए।

जदयू, भाजपा, हम और वीआईपी के जिला तक शामिल नहीं हुए। सांसद, विधायक और एनडीए गठबंधन के जिला अध्यक्षों के नामांकन में शामिल नहीं होने से यहां तरह- तरह की चर्चाएँ होती रही । नामांकन दाखिल करने के बाद बीए एलएलबी डिग्रीधारी कौशल किशोर ने कहा कि उन्हें अपार खुशी हो रही है। सभी जाति और धर्म का समर्थन उन्हें मिलेगा। उनके पिता हरियाणा के राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य राजगीर विधानसभा क्षेत्र (सुरक्षित) का आठ बार प्रतिनिधित्व कर चुके हैं।

राजगीर सहित विधानसभा क्षेत्र में कुछ काम हुए हैं। बहुत काम बाकी है। वे चुनाव जीतने के बाद शेष बचे कार्य को पुरा करायेंगे। जदयू प्रत्याशी के नामांकन में आये समर्थकों द्वारा सोसल डिस्टेंसिंग की जमकर धज्जियां उडाई गई। मास्क लगाने वालों की संख्या भी नगण्य देखी गई। सड़क पर लगी बैरियर के पास पहुँचते ही कौशल किशोर को उनके समर्थकों ने फूल माला से लाद दिया। प्रत्याशी के अलावे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के समर्थन में समर्थकों ने खुब नारा लगाया। अनुमंडल से कौशल किशोर पटेल चौक, धर्मशाला रोड, मेन बाजार, गिरियक रोड चौराहा होते हुए कैलाश विद्यातीर्थ पहुँचे। वहां जनसभा हुई, जिसमें प्रत्याशी के अलावे दर्जनों समर्थकों ने विचार व्यक्त किया।

सोमवार को तीन एनआर कटा। इनमें लोक जन विकास मोर्चा के सोनू कुमार, भारतीय राष्ट्रीय दल के राजेश पासवान और निर्दलीय सत्येंद्र कुमार का नाम शामिल है। उसके पहले जन अधिकार पार्टी की कुमारी गुंजा सिन्हा और निर्दलीय उपेंद्र प्रसाद द्वारा एनआर कटाया जा चुका है। राजगीर विधानसभा क्षेत्र (सुरक्षित) से एनआर कटाने वालों की संख्या अब तक नौ हो चुकी है। इसमें एक नामांकन दाखिल किया गया है।

Leave a Comment