एसोसिएशन ऑफ द यूनिवर्सिटीज ऑफ एशिया एंड द पेसिफिक की सलाहकार सदस्य बनी एनयू वीसी

फोटो – नालंदा विवि की वीसी प्रो. सुनैना सिंह।

रिपोर्ट;ब्यूरो राम विलास,नालंदा।
नालंदा;- नालंदा यूनिवर्सिटी की वाइस चांसलर प्रो सुनैना सिंह की शैक्षणिक एवं प्रशासनिक विलक्षणता और नेतृत्व कौशल को एक बार फिर वैश्विक पहचान मिली है।हाल ही में ऑक्सफोर्ड से प्रोफेसरशिप की मानद उपाधि मिलने के बाद अब एसोसिएशन ऑफ द यूनिवर्सिटीज ऑफ एशिया एंड द पेसिफिक ने उन्हें अपनी सलाहकार समिति का सदस्य मनोनीत किया है।एसोसिएशन ऑफ द यूनिवर्सिटीज ऑफ एशिया एंड द पेसिफिक ने एन यू की वीसी प्रो सिंह के वैश्विक स्तर पर शिक्षा के क्षेत्र में अमूल्य योगदान को एक नई पहचान दी है।

एसोसिएशन ऑफ द यूनिवर्सिटीज ऑफ एशिया एंड द पेसिफिक विश्व भर और खास तौर से एशिया-प्रशांत क्षेत्र के विश्वविद्यालयों की एक गैर शासकीय संस्था है।इस एसोसिएशन में करीब 150 सदस्य विश्वविद्यालय हैं।वे सभी अपने प्रस्ताव और सुझाव साझा कर सकते हैं।और आपस में विचार-विमर्श कर सकते हैं। एसोसिएशन ऑफ द यूनिवर्सिटीज ऑफ एशिया एंड द पेसिफिक यूनेस्को के लिए औपचारिक तौर से उच्चतम परामर्शदाता संस्था है।उसका मुख्य उद्देश्य विश्व भर में उच्च शिक्षा क्षेत्रों में गुणवत्ता और अनुसंधान की संस्कृति को बढ़ावा देना है।इसके अलावा उसका गठन शिक्षा के माध्यम से वैश्विक स्तर पर सामाजिक-आर्थिक विकास और शांति को बढ़ावा देने के लिए भी किया गया है।

Leave a Comment