कदाचार मुक्त शांतिपूर्ण तरीके से हुई मैट्रिक परीक्षा की शुरुआत एक नकलची धराया, हुआ निष्काषित

अंजुम आलम की रिपोर्ट
जमुई: जिले में गुरुवार को मैट्रिक की परीक्षा शांतिपूर्ण माहौल में शुरू हुई। प्रथम दिन निर्धारित समय पर ही परीक्षा की शुरूआत की गयी। जिले के 21 केन्द्रों पर परीक्षा ली गयी। परीक्षा को लेकर परीक्षार्थी काफी उत्साहित दिखे। परीक्षा के दौरान जिले में कहीं भी अप्रिय घटना नहीं हुई है। वहीं परीक्षा को लेकर प्रशासन के अधिकारी भी काफी सजग दिखे। कदाचार मुक्त परीक्षा लिए जाने को लेकर डीएम धर्मेन्द्र कुमार एसपी जे.रेड्डी, एसडीओ लखीन्द्र पासवान जिला शिक्षा पदाधिकारी विजय कुमार हिमांशु के अलावा सभी जोनल पदाधिकारी लगातार परीक्षा केन्द्रों पर भ्रमण करते देखे गए। डीएम ने प्रतिनियुक्त दंडाधिकारियों और केन्द्राधीक्षकों को कदाचार मुक्त परीक्षा हर हाल में लेने का निर्देश दिया। प्रतिनियुक्त दंडाधिकारियों को परीक्षा के दौरान विधि-व्यवस्था बनाये रखने की बात कही।पहले दिन परीक्षा से कदाचार के आरोप में एक परीक्षार्थी निकाले गए। डीइओ विजय कुमार हिमांशु ने बताया कि पहली पाली में 12897 के बदले 12732 परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल हुए। दोनों पाली मिलाकर 389 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। वहीं प्रथम पाली में आयोजित अंग्रेजी की परीक्षा में शहर के ब्लैक डायमंड स्कूल से नकल करने के आरोप में एक परीक्षार्थी को निष्कासित कर दिया गया। मैट्रिक की परीक्षा को लेकर जिले के सभी 21 केन्द्रों पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं।

प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी, पुलिस पदाधिकारी तथा पुलिस के जवान पूरी मुस्तैदी के साथ केन्द्रों पर डटे थे। परीक्षा केन्द्र के 200 मीटर की दूरी तक किसी को फटकने नही दिया जा रहा था। केन्द्रों के बाहर लगाए गए धारा 144 का अनुपालन कराया जा रहा था। विधि-व्यवस्था बनाए रखने को लेकर शहर में भी पुलिस गश्त बढ़ा दी गयी थी। परीक्षा केन्द्रों के आसपास चौक-चौराहों पर भी पुलिस के जवान तैनात दिखे। कदाचार मुक्त परीक्षा को लेकर केन्द्रों के भीतर प्रवेश करने के पहले परीक्षार्थियों की गहन जांच की जा रही थी। छात्रों की तलाशी पुलिस के जवान ले रहे थे जबकि छात्राओं की तलाशी महिला पुलिस ले रही थी। मोबाइल के अलावा अन्य इलेक्ट्रानिक्स उपकरणों पर पूरी तरह प्रतिबंध लगा हुआ था। शिक्षक भी मोबाइल लेकर परीक्षा केन्द्र के भीतर प्रवेश नहीं कर रहे थे। प्रथम पाली की परीक्षा 9ः30 से शुरू होनी थी लेकिन परीक्षार्थी गुरुवार की सुबह 8 बजे से ही परीक्षा केन्द्रों के बाहर जमा हो गये थे। शहर के एकलव्य कॉलेज, गर्ल्स हाईस्कूल, महिला कॉलेज, केकेएम कॉलेज, जमुई बाजार हाईस्कूल समेत विभिन्न केन्द्रों पर समय से पहले ही परीक्षार्थियों की भीड़ लगी रही। परीक्षार्थी परीक्षा को लेकर पहले से ही काफी सजग दिख रहे थे। प्रथम पाली में करीब 8ः30 बजे से ही केन्द्रों के भीतर परीक्षार्थियों को प्रवेश करने की अनुमति दी गयी। कदाचार मुक्त परीक्षा लिए जाने के उद्वेश्य से अधिकांश परीक्षा केन्द्रों पर सीसीटीवी लगाए गए हैं। प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी और केन्द्राधीक्षक सीसीटीवी के फुटेज से परीक्षा पर नजर रख रहे थे। वहीं सभी केन्द्रों पर परीक्षा की विडियोग्राफी करायी जा रही थी। जिला नियंत्रण कक्ष से भी लगातार परीक्षा केन्द्रों से जानकारी ली जा रही थी।

Comments are closed.