कन्या उत्थान की राशि नहीं मिलने पर सीएम के जनता दरबार पहुंची जमुई की छात्रा

-एकलव्य कालेज से 2018 में स्नातक उत्तीर्ण की थी छात्रा

-एकलव्य कालेज को पोर्टल पर अंकित करवाने का किया मांग

-एकलव्य कालेज के किसी छात्राओं को नहीं मिला कन्या उत्थान योजना का लाभ

रिपोर्ट, ब्यूरो मो. अंजुम आलम, जमुई (बिहार)
जमुई:- मुख्यमंत्री बालिका (स्नातक) प्रोत्साहन योजना का लाभ एकलव्य कालेज की छात्राओं को नहीं मिल रहा है। दरअसल कालेज का नाम ही पोर्टल पर दर्ज नहीं है जिस वजह से इस कालेज की छात्राओं को कन्या उत्थान योजना की राशि नहीं मिल रही है। छात्राओं द्वारा कई बार इसकी शिकायत जिला शिक्षा पदाधिकारी से लेकर जिला लोक शिकायत निवारण में की गई थी लेकिन दो वर्ष बीतने के बावजूद इसका समाधान नहीं निकला तब बरहट प्रखंड के गुगुलडीह गांव निवासी सुरेंद्र शर्मा की पुत्री रेणु कुमारी मुख्यमंत्री के जनता दरबार में पहुंच गई और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात कर कन्या उत्थान की राशि नहीं मिलने की शिकायत की।

रेणु कुमारी ने आवेदन देते हुए कहा कि एकलव्य कालेज से वर्ष 2018 में वह स्नातक प्रथम श्रेणी से उत्तीर्ण हुई थी, परंतु अभी तक कन्या उत्थान राशि का भुगतान नहीं हो सका है। उन्होंने बताया कि एकलव्य कालेज जमुई का नाम पोर्टल पर दर्ज नहीं होने के कारण ड्राफ्ट कापी बनाने के लिए महिला कालेज जमुई के नाम पर आवेदन भरी ताकि इस आवेदन को पोर्टल पर मेरा कालेज का नाम दर्ज होने पर आवेदन पूर्ण कर सकूंगी।

उसने मुख्यमंत्री से विनती कर कही की एकलव्य कालेज जो तिलका मांझी भागलपुर विश्वविद्यालय से संबद्ध था उसे पोर्टल पर अंकित करवाया जाए, ताकि मेरे द्वारा अधूरा भरा आवेदन पूर्ण हो सके और मुझे बिहार सरकार द्वारा चलाई गई महत्वाकांक्षी योजना का लाभ मिल सके।

Comments are closed.