करोड़ों रुपये की लागत से कराये जा रहे कार्य में घटिया सामग्री का हो रहा है इस्तेमाल

~जमुई रेलवे स्टेशन के सौन्दर्यिकरण में मची है लूट
~संवेदक द्वारा किया जा रहा है तीन नंबर ईट का इस्तेमाल
~मोकामा के हैं रहने वाले संवेदक राजनिति सिंह
~घटिया निर्माण कार्य से बेखबर हैं सम्बंधित पदाधिकारी
~कार्य स्थल पर नहीं लगा है योजना के नाम व राशि की शिलापट

रिपोर्ट,मो.अंजुम आलम,जमुई (बिहार)
जमुई। एक ओर संसद चिराग पासवान जनता को अपने विकास की गिनती सुनाने में लगे हैं तो वहीं दूसरी ओर संसद के उद्घाटन के बाद जमुई स्टेशन पर हो रहे सौन्दर्यकरण कार्य में भारी लूट-घसोट मची हुई है।सांसद द्वारा जमुई स्टेशन के सौन्दर्यकरण के लिए 04 करोड़ 38 लाख की राशि का उद्घाटन किया गया था।उसके बाद मोकामा के संवेदक राजनीति सिंह द्वारा जमुई स्टेशन के सौन्दर्यकरण का कार्य शुरू किया गया।लेकिन इस कार्य में घटिया ईंट व अन्य सामग्री का इस्तेमाल धड्ल्ले से किया जा रहा है। जिससे आसपास के ग्रामीणों में रोष व्याप्त हो रहा है।लेकिन इधर सांसद की डर तो उधर पदाधिकारियों की मिली भगत से लोग मुंह खोलने से हिचकिचा रहे हैं।
बताते चलें कि जमुई लोकसभा क्षेत्र के सांसद चिराग पासवान द्वारा 4 करोड़ 38 लाख की लागत से स्टेशन परिसर का सौन्दर्यिकरण के लिए पिछले 6 जुलाई 2018 को शिलान्यास किया गया था।जिसमें जमुई सांसद चिराग पासवान द्वारा सिर्फ 40 लाख का ही योगदान दिया गया है।जिसमें जमुई प्लेटफार्म विस्तारीकरण,पैदल ऊपरगामी पुल एंव अन्य यात्री सुविधा कार्य शामिल हैं।साथ ही गिद्धौर व चौरा स्टेशन का भी सौन्दर्यिकरण इसी राशि में शामिल हैं।

~स्टेशन सौन्द्रयिकरण में तीन नम्बर ईंट व घटिया सामग्री का हो रहा प्रयोग
आगे बताते चलें कि जमुई रेलवे स्टेशन पर हो रहे सौंदर्यीकरण कार्य में संवेदक राजनीति सिंह द्वारा घटिया सिमेंट व तीन नबंर ईट का प्रयोग किया जा रहा है। इस संबंध में जब संवेदक के मुंशी संजय कुमार पांडेय ने बताया कि जो सामग्री मुझे उपलब्ध कराई जा रही है उसी से काम करना पड़ रहा है।इधर इस मामले में जब मिडिया कर्मी द्वारा जूनियर इंजीनियर से मोबाइल फोन पर सम्पर्क साधा गया तो उन्होंने गलत तरीके से व घटिया सामग्री इस्तेमाल किये जाने से अनजान बनते हुए झाझा आकर मिलने की बात कही गई।
वहीं मलयपुर गांव के 04 नम्बर वार्ड सदस्य बिट्टू सिंह ने कहा कि सांसद चिराग पासवान द्वारा विकास का झूठा ढिंढोरा पीटा जा रहा है।हर योजना में लूट-घसोट मची है।जिसका उदाहरण जमुई रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म के सौन्द्रयिकरण में साफ दिख रहा है।सांसद द्वारा शिलान्यास किये गए इस कार्य में तीन नम्बर ईंट और घटिया सामग्री का खुलेआम इस्तेमाल किया जा रहा है।
वहीं इस सम्बंध में स्थानिए ग्रामीण मलयपुर के प्रभाकर कुमार ने बताया कि यहाँ जो भी ठीकेदार काम करने के लिए आता है सभी लूट-घासोट कर चला जाता है।जिसको देखने वाला कोई नहीं है।संबंधित अधिकारियों की भी मिलीभगत से घटिया कार्य कर खानापूर्ति कर दिया जाता है।

Comments are closed.