कृषि टास्क फोर्स की बैठक में डीएम ने दिए कई आवश्यक दिशा निर्देश

 

फ़ोटो कृषि टास्क फोर्स की बैठक में निर्देश देते डीएम शशांक शुभंकर

बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का यथाशीघ्र मुआयना करें बीएओ; डीएम

जैविक कॉरिडोर पर खास फोकस।

रिपोर्ट;सुभाष चंद्र कुमार [ बिशेष संवाददाता ] बिहार।
समस्तीपुर,पूसा ;-डीएम शशांक शुभंकर ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का यथाशीघ्र मुआयना करने का संबंधित प्रखण्ड के कृषि पदाधिकारियों को निर्देश दिया। साथ ही जैविक कॉरिडोर योजनाओं के तहत चयनित किसानों का जैविक सब्जी उत्पाद फिलहाल कहाँ पर बिक्री की जा रही है इस बात की स्थिती अविलंब स्पष्ट करें। जैविक सब्जी उत्पाद बेचने में सहकारिता पदाधिकारियों को सहयोग करने के लिए एवं मत्स्य पदाधिकारियों को चौर विकास योजना, ब्लोफ्लॉक योजना, नीली क्रांति योजना, जल जीवन हरियाली, सात निश्चय पार्ट2 की योजना एवं प्रधानमंत्री सम्पदा योजना पर कार्य करने के लिए निर्देश दिया।

उर्वरक निगरानी समिति का ससमय बैठक कराकर किसानों को उर्वरक के लिए कोई भी समस्या नही हो। कॉल सेंटर के माध्यम से जो भी किसान अपना समस्या रखा उसका निष्पादन समय से हो रहा है या नही। कृषि यांत्रिकीकरण योजनाओं के तहत कृषि यंत्रों के मरम्मती पर प्रशिक्षण देने का निर्देश दिया। डॉ राजेन्द्र प्रसाद केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय स्थित विद्यापति साभागार में गुरुवार को कृषि टास्क फोर्स की बैठक को संबोधित करते हुए उक्त बातें डीएम ने कही।

सहायक निदेशक रशायन अभिषेक कुमार ने कहा मृदा पोषण अभियान के तहत 20 प्रखंडों में मोबाइल के माध्यम से ग्रिड बनाकर किसानों के खेत से मिट्टी लेकर अविलम्ब जिला मृदा विभाग में भेजें। जिससे मिट्टी जांचकर किसानों मृदा स्वास्थ्य कार्ड उपलब्ध कराया जा सके। मौके पर जिला सांख्यकी पदाधिकारी सत्येंद्र कुमार, डीएओ विकास कुमार, बीएओ पूसा राजीव कुमार, उपपरियोजना निदेशक आत्मा गंगेश चौधरी, सहायक निदेशक अभियंत्रण दीपक कुमार, कृषि समन्वयक डॉ अवध पटेल, संजय कुमार राय, मनोज कुमार, सहायक तकनीकी प्रबंधक मारुत नंदन शुक्ला, आदित्य पांडेय आदि मौजूद थे।

Leave a Comment