केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय के कृषि विज्ञान केंद्र को सर्वश्रेष्ठ केवीके का राष्ट्रीय सम्मान

मनोरमा सिंह अभिनव किसान पुरस्कार से सम्मानित

रिपोर्ट;सुभाष चन्द्र कुमार [विषेस संवाददाता ]बिहार।
समस्तीपुर,पूसा;- डा राजेन्द्र प्रसाद केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति डा रमेश चन्द्र श्रीवास्तव के नेतृत्व में विश्वविद्यालय ने दो नई उपलब्धियां हासिल की है। विश्वविद्यालय के पिपराकोठी कृषि विज्ञान केंद्र को पंडित दीनदयाल उपाध्याय सर्वश्रेष्ठ कृषि विज्ञान केंद्र 2020 का प्रथम पुरस्कार मिला है । इसी के साथ कृषि विज्ञान केंद्र वैशाली से संबद्ध मशरूम उत्पादक मनोरमा सिंह को जगजीवन राम अभिनव किसान पुरस्कार 2020 से सम्मानित किया गया है।

सम्मान के रूप में श्रीमती सिंह को 50 हजार रुपये एवं प्रशस्ति चिह्न दिया गया। बतादें कि फरवरी 2016 में कुलपति डा रमेश चन्द्र श्रीवास्तव ने मनोरमा सिंह के मशरूम यूनिट का उद्घाटन किया था। श्रीमती सिंह ने विश्वविद्यालय से ट्रेनिंग लेकर छोटे से प्लांट से मशरूम उत्पादन शुरू किया और आज वे लगभग डेढ़ लाख रूपये महीने से अधिक की कमाई कर रही हैं। कुलपति डा श्रीवास्तव ने सम्मान मिलने पर निदेशक प्रसार शिक्षा डा एमएस कुंडू एवं मनोरमा सिंह को बधाई दी। उन्होंने कहा कि मशरूम के क्षेत्र से जुड़कर किसान आसानी से पचास से एक हजार रूपये की कमाई कर सकते हैं।

उन्होंने कहा कि अब बिहार में 27 कंट्रोल्ड प्लांट हो गये हैं तथा इसके अतिरिक्त हजारो किसान मशरूम उत्पादन से जुड़कर अच्छी कमाई कर रहे हैं। डा श्रीवास्तव ने कहा कि विश्वविद्यालय के केवीके को सर्वश्रेष्ठ केवीके का पुरस्कार मिलना एक गौरव की बात है। इसके लिये उन्होंने सभी वैज्ञानिकों एवं कर्मचारियों को बधाई दी।

पुरस्कारों की घोषणा आइसीएआर के स्थापना दिवस समारोह के दौरान माननीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री, भारत सरकार नरेंद्र सिंह तोमर, माननीय मंत्री मतस्यिकी, पशुपालन एवं डेयरी, भारत सरकार, पुरूषोत्तम रूपाला मंत्री, रेलवे,संचार तथा इलेक्ट्रॉनिकी एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय, भारत सरकार, अश्विनी वैष्णव राज्य मंत्री कृषि एवं किसान कल्याण, भारत सरकार, कैलाश चौधरी राज्य मंत्री कृषि एवं किसान कल्याण शोभा करंदलाजे महानिदेशक आइसीएआर एवं त्रिलोचन महापात्र की उपस्थिति में की गयी।

आनलाईन आयोजित इस कार्यक्रम मे देश भर के कृषि विश्वविद्यालयों के कुलपति, कृषि विज्ञान केंद्रों के वैज्ञानिक, अधिकारी एवं हजारों किसान सम्मिलित हुए। डा राजेन्द्र प्रसाद केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय की ओर से कार्यक्रम में कुलसचिव, डा पीपी श्रीवास्तव, निदेशक अनुसंधान डा मिथिलेश श्रीवास्तव, निदेशक छात्र कल्याण डा एके मिश्रा, निदेशक शिक्षा डा एम एन झा, डीन बेसिक साइंस डा सोमनाथ राय चौधरी, कृषि अभियांत्रिकी डीन डा अम्बरीष कुमार, कम्यूनिटी साइंस के अधिष्ठाता डा मीरा सिंह, डा केएम सिंह समेत कई वरिष्ठ वैज्ञानिक सम्मिलित हुए।

Leave a Comment