केन्द्रीय खाद्य मंत्री ने जमुई में एफसीआई क्षेत्रीय कार्यालय का किया उद्घाटन

अंजुम आलम की रिपोर्ट
जमुई: भारतीय खाद्य निगम के क्षेत्रीय कार्यालय के उद्घाटन के लिए शनिवार को शहर स्थित श्रीकृष्ण सिंह स्टेडियम जमुई के मैदान में केन्द्रीय खाद्य मंत्री रामविलास पासवान पहुँचे। साथ ही बिहार सरकार के जल संसाधन मंत्री राजीव रंजन सिंह उर्फ लालन सिंह और जमुई लोकसभा क्षेत्र के सांसद चिराग पासवान भी पहुँचे। केंद्रीय मंत्री ने जमुई की धरती से लोकसभा चुनाव 2019 का चुनावी शंखनाद किया। वहीं जमुई शहर मुख्यालय स्थित श्री कृष्ण सिंह स्टेडियम में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के संयुक्त तात्वाधान में एक विशाल जन सभा का भी आयोजन किया गया। जिसमें केन्द्रीय खाद्य मंत्री रामविलास पासवान, बिहार सरकार के जल संसाधन मंत्री राजीव रंजन उर्फ ललन सिंह, स्थानीय सांसद चिराग पासवान, डीएम धर्मेंद्र कुमार सहित एनडीए के कई पदाधिकारी शामिल हुए और चुनावी शंखनाद किया। वहीं केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान को मिथिला पेंटिंग किया हुआ शॉल और बुके देकर जोरदार स्वागत किया गया। कार्यक्रम के दौरान सभा को संबोधित करने से पहले स्टेज पर से ही रिमोट से भारतीय खाद्य निगम के क्षेत्रीय कार्यालय का उद्घाटन किया। लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह केंद्रीय खाद्य मंत्री रामविलास पासवान ने कार्यक्रम के दौरान कहा कि महागठबंधन में सीट शेयरिंग को लेकर हाहाकार मचा हुआ है जबकि चिराग के चुटकी बजाते ही एनडीए में सीट शेयरिंग का मामला सुलझ गया। बेटे चिराग को फिर से लोकतंत्र के महामंदिर में पहुंचाने की हशरत लिए जमुई की पावन धरती पर पहुंचे केन्द्रीय मंत्री रामविलास पासवान जब सभा को संबोधित कर रहे थे, तब परिवारवाद को लेकर कांग्रेस को घेरने वाली केन्द्र और प्रदेश की सरकार में साझेदारी निभाने वाली लोक जनशक्ती पार्टी के प्रमुख और केन्द्रीय खाद्य मंत्री रामविलास पासवान खुद पुत्र मोह की फांस में फंसते दिखे।और बातों ही बातों में बेटे चिराग को अपनी कमान सौंपने के संकेत दे बैठे। स्थानीय संसद चिराग पासवान के पिता केंद्रीय खाद्य मंत्री रामविलास पासवान ने कहा कि जब चिराग संसद बना था तो मुझे यकीन नहीं हो रहा था कि जो मुम्बई में रहने वाला है क्या वो धूप, बरसात, और ठंढ में जंगल और गांव का दौरा कर सकेगा। लेकिन 6 महीना बाद मुझे यकीन हुआ था कि चिराग वाकई में जहाँ को रौशन करने वाला है। जिसका मैन कल्पना भी नहीं किया था उससे भी ज़्यादा चिराग ने कर दिखाया है। यह चिराग जमुई का नाम बिहार में नहीं बल्कि पूरे देश मे रौशन किया है और उम्मीद है कि आगे जमुई का नाम पूरी दुनिया मे रौशन करेगा। मुझसे भी आगे बढ़ेगा चिराग। दरअसल,जमुई से केन्द्रीय मंत्री रामविलास पासवान, बिहार सरकार में मंत्री राजीव रंजन उर्फ ललन सिंह और स्थानीय सांसद चिराग पासवान आगामी लोकसभा चुनाव 2019 का चुनावी शंखनाद करने जमुई पहुंचे थे। मंच से सभा को संबोधित करते हुए बिहार सरकार के जल संसाधन मंत्री राजीव रंजन उर्फ ललन सिंह ने सांसद चिराग पासवान की तारीफ में कसीदे पढ़े, और कहा कि चिराग पासवान अपने पिता का भी रिकॉर्ड तोड़ेंगे। कम समय में पहली बार सांसद बनने के बाद इतनी परिपक्वता के साथ क्षेत्र का दौरा करना और जमुई लोकसभा क्षेत्र में विकास का गंगा बहाना यह संकेत दे रहा है कि जमुई की धरती को अभी चिराग की ज़रूरत है। वहीं, स्थानीय सांसद चिराग पासवान ने जमुई में होने वाले विकास का श्रेय लेते हुए कहा कि पिछले पांच सालों में जिस तरह से जमुई विकास की ओर अग्रसर है,उसका नतीजा है कि आज जमुई देश के विकासशील जिलों में अपना स्थान रखता है, वहीं,उन्होंने जमुई में केन्द्रीय विद्यालय के लिए राशि का आवंटन और मेडिकल कॉलेज के लिए प्रस्ताव को लेकर अपनी बात कही,और साथ ही पांच वर्षों के किये सभी कार्य का जिक्र करते हुए कहा कि मैं अपने पिता के नक्शे-कदम पर चल कर जमुई का नाम राज्य,देश नहीं बल्कि पूरी दुनिया में रौशन करूंगा।और साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि विकास के मामले में 05 वर्षों में बिहार के पांच जिलों में से एक जमुई जिला का भी स्थान है। हालांकि इसे चुनावी शंखनाद कहें या फिर पुत्र मोह की फांस में फंसे एक ऐसा पिता जो जमुई की धरती पर अपने संबोधन में बेटे चिराग के हाथों में सारा कमान सौंपने के संकेत दे बैठे।दरअसल आए तो थे भारतीय खाद्य निगम के कार्यालय का उद्घाटन करने लेकिन लगे हाथों जमुई से सांसद और पुत्र चिराग के लिए चुनावी शंखनाद कर गए। मौके पर डीडीसी,एसडीओ लाखिन्द्र पासवान,चकाई के पूर्व विधायक सुमित सिंह,लोजपा जिला अध्यक्ष सुभाष चंद्रबोष, पूर्व जिला अध्यक्ष मोतिउल्लाह, भाजपा जिलाध्यक्ष भाष्कर सिंह, सहित एनडीए के पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद थे।

Comments are closed.