कॉग्रेस भवन में भिड़े कार्यकर्ता,जमकर चली लात और घूंसे

-किसान सत्याग्रह पदयात्रा कार्यक्रम में पहुंचे थे बिहार प्रभारी और प्रदेश अध्यक्ष

रिपोर्ट, मो. अंजुम आलम,जमुई (बिहार)
जमुई:- किसान सत्याग्रह पदयात्रा के दौरान शुक्रवार को जिला कांग्रेस भवन में कांग्रेसी कार्यकर्ता आपस में ही भिड़ गए और एक दूसरे पर लात-घूसे और कुर्सी से वार करने लगे। हुआ यूं कि किसान सत्याग्रह पदयात्रा के दौरान कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा और बिहार कांग्रेस प्रभारी भक्त चरण दास, प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष समीर कुमार सिंह, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अनिल शर्मा सहित कई प्रदेश नेता पहुंचे थे।

अभी पार्टी के पदाधिकारियों के स्वागत का दौर चलना शुरू हुआ ही था लोग बुके और गुलदस्ता भेंट कर बारी-बारी से स्वागत कर ही रहे थे कि अचानक अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के जिला अध्यक्ष गाजी शाहनवाज और सिकंदरा के पूर्व विधायक बंटी चौधरी के बीच तूतू-मैंमैं हुई और कार्यकर्ता आपस में भिड़ गए। कार्यक्रम में बैठे पदाधिकारी जबतक कुछ समझ पाते तबतक कार्यकर्ताओं के बीच उठापटक शुरू हो गई। उसके बाद पार्टी के वरीय पदाधिकारीयों द्वारा कड़ी मशक्कत के बाद झगड़े को छुड़ाकर कार्यकर्ताओं को शांत किया गया।

बता दें कि सिकंदरा के पूर्व विधायक सुधीर कुमार उर्फ बंटी चौधरी द्वारा गाजी शाहनवाज पर पार्टी में रहकर पार्टी विरोधी कार्य करने का आरोप लगाया गया साथ ही विधानसभा चुनाव में विरोध करने की बात कही गई। जबकि गाजी शाहनवाज ने कहा कि वे फील्ड में नजर नहीं आते थे जिस वजह से वे चुनाव हारे हैं। जनता ने उन्हें हराया है। इतना कहना था कि कार्यकर्ता दो पक्ष में बंटकर आपस में भिड़ गए।
—–
-चुनाव से ही दो फाड़ में थी कार्यकर्ता

बीते विधानसभा चुनाव के समय से ही जमुई में कांग्रेस कार्यकर्ता दो फाड़ में बंटी हुई थी। इस दौरान कांग्रेस प्रत्याशी की हार के बाद एक दूसरे पर आरोप- प्रत्यारोप का दौर चलने लगा। किसी को चुनाव हारने का गम तो किसी को हराने की खुशी थी। इतने दिनों के बाद शुक्रवार को यह अवसर मिला की सभी कार्यकर्ता एकत्रित हुए और मौका देख दिल में उबलती भड़ास को निकाल दिए।

Comments are closed.