घर से घसीट कर छात्र को पहले पीटा,फिर अपराधियों ने गोलियों से किया छलनी

~कुख्यात अपराधी बिरप्पन ने दिया घटना को अंजाम
~छात्र के माँ और दादी की भी जमकर की पिटाई
~12 से 15 की संख्यां में हथियार से लैस थे अपराधी
~छात्र को घर से ले जाकर पहले लात-घूसों से की पिटाई फिर गोली मारकर की हत्या
~परिजनों का आरोप ढाई घंटे बाद घटना स्थल पहुँची पुलिस
~शव को उठाने नहीं देने को लेकर रात भर अड़े रहे परिजन
~शुक्रवार की सुबह आश्वासन के बाद शव पोस्टमार्टम के लिए ला पाई पुलिस

रिपोर्ट,मो.अंजुम आलम,जमुई (बिहार)
जमुई | टाउन थाना क्षेत्र के काकन गांव में बेखौफ कुख्यात अपराधी सुभाष कुमार उर्फ बिरप्पन ने अपने सहयोगियों के साथ दिनदहाड़े विनोद सिंह के 20 वर्षीय पुत्र मणिकांत सिंह को परिजनों के सामने गोलियों से भून डाला।जिससे युवक की घटना स्थल पर ही मौत हो गई।युवक इंटर का छात्र था।जिसका अपराध से कोई लगाव नहीं था।अपराधी कोई और नहीं बल्कि गांव का ही खूंखार कुख्यात अपराधी सुभाष कुमार उर्फ बिरप्पन है।बताया जाता है कि घटना के वक़्त बिरप्पन अकेला नहीं बल्कि छोटे-बड़े हथियार के साथ 12 से 15 की संख्यां में आया और अपनी खौफ व लोगों के बीच दहशत कायम रखने को लेकर थोड़ी सी विवाद में छात्र को गोली मारकर हत्या कर दी।इधर छात्र के हत्या के बाद सभी अपराधी मौके से फरार हो गया।

*डेढ़ दर्जन कि संख्यां में थे अपराधी,माँ और दादी को भी पीटा
मृतक छात्र की माँ रंजू देवी ने बताई की गुरुवार की शाम मणिकांत खेत की ओर से घर आया था वह तनाव व परेशानियों में दिख रहा था तभी पूछने पर उसने किसी बात को लेकर कुख्यात अपराधी बिरप्पन से झगड़ा होने की बात बताई।उसके बाद मां छात्र को डांट ही रही थी कि तभी कुख्यात अपराधी बिरप्पन अपने डेढ़ दर्जन सहयोगियों के साथ आया और जबरन घर में घुस कर मारपीट करने लगा।छात्र को पिटता देख उसकी माँ रंजू देवी और दादी इंदु देवी बीच-बचाव करने लगी।लेकिन बदमाशों ने लाठी और डंडे से मां व दादी को भी पीट कर जख्मी कर दिया और छात्र को घसीटते हुए अपने साथ लेकर चला गया।

*पहले छात्र को पीटा फिर गोलियों से भूना
बताया जाता है कि हथियार से लैस बिरप्पन अपने साथियों के साथ आया और छात्र मणिकांत को घसीटते हुए ले जाने लगा।जबकि मां और दादी गिड़गिड़ाते रही छात्र को छोड़ने की भीख मांगते रही लेकिन कठोर अपराधी एक न सुनी और लात-घूसों व डंडों से पिटाई करते हुए ले गया उसके बाद जब छात्र अपराधी के चंगुल से छुट कर भागने लगा तो बिरप्पन ने ताबड़तोड़ 5-7 गोली मारकर हत्या कर दी।

*ढाई घंटे बाद घटना स्थल पर पहुंची पुलिस
मृतक छात्र के पिता ने पुलिस पर आरोप लगाते हुए बताया कि पुलिस अपराधी को संरक्षण दे रही है।बिरप्पन पर कई हत्या,अपहरण के मामले दर्ज हैं फिर भी वो खुलेआम घूम रहा है।तीन महीनों के अंदर एक दर्जन आपराधिक घटना को अंजाम दे चुका है लेकिन पुलिस खामोश है।एक महीना पहले कुर्की जब्ती करने आई पुलिस भी सिर्फ एक खाट और गेट लेकर गई है।और अपराधी की गिरफ्तारी पर कोई ध्यान नहीं दे रही है।आगे उन्होंने पुलिस पर यह भी आरोप लगाया कि मणिकांत को बिरप्पन ने जिस वक्त हत्या की थी उसी वक़्त पुलिस को सूचना दी गई लेकिन पुलिस ढाई घंटे बाद मौकाए वारदात पर पहुंचना मुनासिब समझा।जबकि सदर थाना क्षेत्र से महज 10 किलोमीटर की दूरी पर घटना हुई थी।

*छात्र के शव को उठाने नहीं देने को लेकर रातभर अड़े रहे ग्रामीण
छात्र की हत्या के बाद ढाई घंटे बाद पहुँची पुलिस को देख आक्रोशित परिजनों ने शव को उठाने से मना कर दिया।पुलिस छात्र के शव को उठाने के लिए रातभर जद्दोजहद करती रही लेकिन परिजन घटना स्थल पर SP के आने की मांग पर अड़े रहे।घटना स्थल पर पहुंचे सदर SDO लाखिन्द्र पासवान,DSP लाल बाबू यादव,सदर थानाध्यक्ष सिद्धेश्वर पासवान द्वारा रात भर परिजनों को समझाते रहे लेकिन परिजन शव उठाने से मना करते रहे।अंत में पदाधिकारियों के आश्वासन के बाद शुक्रवार की सुबह शव को उठाया गया और अंत्यपरीक्षण के लिए सदर अस्पताल जमुई लाया गया।

*परिजनों ने 13 नामजद व आधा दर्जन अज्ञात पर कराई प्राथमिकी दर्ज
छात्र के हत्या के बाद पिता विनोद सिंह ने काकन गांव के सौदागर महतो के पुत्र कुख्यात अपराधी सुभाष कुमार उर्फ बिरप्पन पर हत्या की प्राथमिकी दर्ज कराते हुए उसके साथ बिसुन महतो का पुत्र प्रवीण कुमार,संतीश कुमार,छेदी रावत का पुत्र,उदय कुमार,नीरज महतो,सौदागर महतो,जोधि महतो,जयराम महतो सहित 13 नामजद व आधा दर्जन अज्ञात पर प्राथमिकी दर्ज कराई है।

*कहते हैं SDO
घटना स्थल पर पहुंचे सदर SDO लाखिन्द्र पासवान ने बताया कि छात्र के हत्या के मामले में छानबीन की जा रही है।परिजन द्वारा कुख्यात अपराधी बिरप्पन सहित 13 लोगों पर प्राथमिकी दर्ज कराई गई है।जल्द ही हत्या में संलिप्त सभी लोगों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।वहीं थानाध्यक्ष सिद्धेश्वर पासवान ने बताया कि अनुसंधान जारी है।अपराधी अब पुलिस पकड़ से दूर नहीं रह पाएंगे।छापेमारी की जा रही है।बहुत जल्द अपराधी शालाखों के पीछे होंगे।

Comments are closed.