चार युवकों की मौत पर रो रहा राजगीर

रिपोर्ट;ब्यूरो राम विलास,नालंदा।
राजगीर;-चार अविवाहित युवकों की आकस्मिक मौत के बाद राजगीर सिहर गया है।सर्वत्र शोक की लहर दौड़ गई है।घटना के बारे में जो जान रहा है वही स्तब्ध हो रहा है।हर कोई घटना की जानकारी पाकर मृतक परिवार के घर की ओर पहुंच रहे हैं।हर कोई घटना की विस्तृत जानकारी लेने की हर संभव कोशिश कर रहे हैं।राजगीर मेन बाजार के स्वर्गीय योगेंद्र गोस्वामी का एकलौता पुत्र राजू गोस्वामी अब इस दुनिया में नहीं रहा।उसके निधन से परिवार के सभी सदस्य काफी मर्माहत हैं।परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है।

राजू सात बहनों की एकलौता भाई था।उसके छह बहनों की शादी हुई है, लेकिन एक बहन अविवाहित है।राजू घर का कमासूत लड़का था।राजू की माँ का रो रो कर बुरा हाल है।वह बार बार बेहोश हो रही है।वह कहती है कि अब उसकी भरन पोषण कौन करेगा।उसकी बेटी की शादी कौन करेगा।राजू की बहनें भी भाई की मौत पर दहाड़ मार कर रो रही है।इसी प्रकार तुलसी गली के ओम प्रकाश चौधरी के दो पुत्रों में बड़े पुत्र शैलेश कुमार की मौत इस सड़क दुर्घटना में हुई है।

मृतक दो भाई और एक बहन है।उनके परिजन काफी मर्माहत हैं।पास पड़ोस की महिलाएं और पुरुष मृतक परिवार को सांत्वना दे रहे हैं।लेकिन परिजनों के आंखों का आंसू थमने का नाम नहीं ले रहा है।शिवानी सिनेमा हॉल के समीप के स्वर्गीय वीरेंद्र प्रसाद का पुत्र राजन कुमार इस दुनिया में अब नहीं रहा।वीरेन्द्र प्रसाद के पांचों पुत्रों में राजन तीसरे नंबर का पुत्र था।इनकी माता मंजू देवी पति की मृत्यु के बाद सिलाई कटाई कर अपने परिजनों को पाल पोस रही थी।बेटा जब कमाने लायक हुआ तो इस दुनिया से विदा हो गया।उनकी माता मंजू देवी का रो रो कर बुरा हाल है।

तुलसी गली के विजय प्रसाद का पुत्र दीपक कुमार अपने भाई बहनों में सबसे बड़ा था।वह दो भाई और एक बहन है।उसके माता पिता और बहन की हालत बहुत खराब है।वह बार बार वेहोश हो रही है।पानी का छिंटा देकर पास पड़ोस के लोग उन्हें होश में ला रहे हैं।एकता के घरों के पास व्यवसाय से लेकर जनप्रतिनिधि और समाज सेवक तक जमे हैं।हर को

Leave a Comment