ताजपोशी के बाद विवेक मुनि को मिला महामंडलेश्वर का प्रमाण पत्र

रिपोर्ट : ब्यूरो, राम विलास, नालंदा, बिहार।
राजगीर;-प्रयागराज के जगद्गुरु विश्वकर्मा शंकराचार्य स्वामी दिलीप योगी जी महाराज द्वारा बड़ी संगत के पीठाधीश्वर स्वामी विवेक मुनि जी महाराज को बिहार महामंडलेश्वर की ताजपोशी करने के बाद सोमवार को महामंडलेश्वर का सर्टिफिकेट भी दिया गया।शंकराचार्य के अलावे प्रयागराज महाशक्ति पीठ के राष्ट्रीय प्रचार मंत्री संत बाबूलाल महाराज, संत महेंद्र दास महाराज, हरिद्वार के संत समय दास भ्रमणशील संत योगी दास और संकट मोचन आश्रम नवादा के महंत नकुल दास द्वारा महामंडलेश्वर को सर्टिफिकेट हस्तगत किया गया।

स्वामी विवेक मुनि जी महाराज राजगीर के दूसरे संत महंत हैं, जिन्हें बिहार महामंडलेश्वर की उपाधि दी गई है. इनके पहले बड़ी संगत के ही संत महंत स्वामी शुकदेव मुनि महाराज को बिहार महामंडलेश्वर की उपाधि उदासीन पंचायती बड़ा अखाड़ा प्रयागराज (इलाहाबाद) के द्वारा कई दशक पहले दिया गया था। बड़ी संगत के पीठाधीश्वर स्वामी विवेक मुनि जी महाराज को बिहार महामंडलेश्वर की उपाधि मिलने से राजगीर में खुशी है।

कबीर आश्रम के महंत द्वारका दास, प्रेम दास, सुनील दास, मुखिया सह प्रकृति अध्यक्ष नवेन्दू झा, रघुनंदन पांडेय, परमानंद पांडेय, प्रोफ़ेसर निर्मल द्विवेदी, संत बाबूलाल , सहित अनेक लोगों ने स्वामी विवेक मुनि को बधाई दिया है। बिहार के नए महामंडलेश्वर से लोगों को उम्मीद है कि वे बिहार के धर्म स्थलों और तीर्थों की रक्षा करने के लिए हर संभव प्रयास करेंगे. नए महामंडलेश्वर स्वामी विवेक मुनि महाराज ने कहा कि सनातन धर्मावलंबियों की उम्मीदों पर खरा उतरने का वे हर संभव प्रयास करेंगे।

Comments are closed.