तिलक समारोह से साथियों के साथ लौट रहे युवक की सड़क दुर्घटना में हुई मौत

रिपोर्ट, मो. अंजुम आलम,जमुई (बिहार)
जमुई:- खैरा थाना क्षेत्र के नीमानवादा गांव के समीप मंगलवार की अहले सुबह तेज रफ्तार सफारी वाहन पलटकर दुर्घटनाग्रस्त हो गई। इस दुर्घटना में वाहन पर सवार एक युवक की घटना स्थल पर ही मौत हो गई। मृतक युवक की पहचान शहर के एकलव्य कॉलेज मुहल्ला निवासी लालो राम का 31 वर्षीय पुत्र छोटू कुमार के रूप में हुई है। स्वजनों ने बताया कि छोटू कुमार सोमवार की रात अपने कई साथियों के साथ एक वाहन पर सवार होकर सोनो थाना के सबयजोर गांव अपने एक दोस्त दीपक यादव के यहां तिलक समारोह में शामिल होने गया था।

तिलक सामारोह खत्म होने के बाद सभी दोस्त सफारी वाहन पर सवार होकर अपने घर जमुई आ रहे थे। जैसे ही उनकी वाहन नीमनवादा गांव के समीप पहुंची थी कि अचानक वाहन का अगला चक्का फट गया और वाहन असंतुलित होकर सड़क किनारे पलट गई। इस दुर्घटना में वाहन पर सवार कुल पांच लोगों में छोटू कुमार की मौत घटना स्थल पर ही हो गई। वहीं वाहन पर सवार छोटू के दोस्त संतोष यादव, उमेश यादव सहित दो अन्य लोग वाहन और छोटू को वहां से छोड़कर फरार हो गए। इधर दुर्घटना की सूचना ग्रामीणों द्वारा मृतक के स्वजन और पुलिस को दी गई। उसके बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल लाया गया। जहां शव को देखने के लिए लोगों की काफी भीड़ उमड़ गई।
——
-स्वजन के चित्कार से गमगीन हुआ माहौल

छोटू के मौत की सूचना की खबर जैसे ही स्वजनों को मिली वैसे ही पूरे परिवार में कोहराम मच गया। स्वजनों के चीख-चीत्कार से पूरा माहौल गमगीन हो गया। वहीं पत्नी का रो-रो कर बुरा हाल होने लगा।वहीं जैसे-जैसे छोटू के मौत की सूचना लोगों को मिली वैसे-वैसे लोगों की भीड़ सदर अस्पताल में जुटने लगी। बता दें कि मृतक छोटू अपने भाई के साथ मिलकर डिस लगाने का कार्य करता था। मृतक को एक पुत्र और एक पुत्री है।
—–
-मृत अवस्था में छोटू को छोड़कर फरार हुआ साथी

मृतक छोटू के भाई राकेश कुमार ने बताया कि रात लगभग 11 बजे छोटू से मोबाइल पर बात हुई थी। तब छोटू ने बताया कि वह मुहल्ला के ही संतोष यादव और उमेश यादव के साथ एक तिलक समारोह में शामिल होने के लिए सोनो थाना के सबयजोर गांव आया हुआ है। साथ ही राकेश ने यह भी बताया कि नीमनवादा गांव से रात लगभग 3 बजे उनके मोबाइल पर फोन आया था कि सड़क दुर्घटना होने के कारण उसका भाई गंभीर रूप से घायल हो गया है। लेकिन वाहन के समीप छोटू के अलावा और कोई भी लोग मौजूद नहीं है। सभी साथी फरार हो गए हैं।
बता दें कि दुर्घटना में अगर वाहन दो से तीन बार पलटा तो अन्य लोगों को चोटे क्यूं नहीं आई सिर्फ और सिर्फ छोटू की मौत कैसे हो गई। यह भी लोगों के बीच चर्चा का विषय बना हुआ है।

Comments are closed.