तीन दिवसीय केवल ज्ञान कल्याणक महोत्सव संपन्न

फोटो – महामस्तकाभिषेक करते श्रद्धालु

रिपोर्ट;ब्यूरो राम विलास,नालंदा।
राजगीर;-तीन दिवसीय मुनिसुव्रत स्वामी केवल ज्ञान कल्याणक महोत्सव बुधवार को संपन्न हो गया।कार्यक्रम के अंतिम दिन मंदिर परिसर में शोभायात्रा गाजे-बाजे के साथ निकाली गई।शोभायात्रा बाद मंदिर में भगवान का महा अभिषेक किया गया।भगवान के मस्तक के ऊपर छत्र, तिलक, कपाली अर्पण किया गया। इस अवसर पर रंगारंग भक्ति संगीत का कार्यक्रम प्रस्तुत किया गया।भगवान के मस्तक पर छत्री चढ़ने का लाभ मुंबई निवासी परेश भाई, अनीश भाई, प्रिया वैद्य एवं वैशाली ने लिया।

अशोक भाई मेहता गुरु जी ने कहा कि आज के वर्तमान परिवेश में हम सभी धर्म से जुड़े रहकर समाज की सेवा करें यही सबसे बड़ी पूजा है।हम सबों को अपने जीवन में कुछ न कुछ समाज के लिए अवश्य करना चाहिए।भगवान मुनिसुव्रत स्वामी की यह चार कल्याण भूमि जितनी बार यात्रा की जाए वह कम है। संस्था के ट्रस्टी राज कुमार वैद्य ने कहा कि हमारा परम सौभाग्य है कि तीर्थंकरों का विचरण इस प्राचीन नगरी में हुआ है।इस भक्ति पूर्ण तीन दिवसीय आयोजन के लिए उन्होंने सबों के प्रति आभार प्रकट किया।

इस अवसर पर मुंबई और पटना के कलाकारों द्वारा सुमधुर भजन प्रस्तुत किया गया. इस कार्यक्रम में सहायक प्रबंधक ज्ञानेंद्र पांडेय, वीरायतन की साध्वी यशा जी महाराज , साध्वी रोहिणी जी महाराज, साध्वी साधना जी महाराज, संस्था के ट्रस्टी राजकुमार वैद्य, सुरेश चंद्र बोस, रमेश चंद्र , नीलेश भाई, कोमल भाई , भाविन भाई, परेश भाई, मनीष भाई, सुशील जैन, बैजनाथ प्रसाद सिंह, जयनंदन पांडेय, सुधीर उपाध्याय, उमराव प्रसाद निर्मल, मुकेश जैन, राम कृष्ण प्रसाद सिंह, सुखराज जैन, ज्ञानचंद जैन, मदन चंद अग्रवाल, संजीव कुमार जैन, अर्चना जैन, कैलाश उपाध्याय, रेखा जैन, सुषमा पांडेय, रूपा जैन सहित अनेक श्रद्धालु शामिल हुए।

Comments are closed.