धूप से बचने के लिए सब्जी विक्रेता लगा रहे पॉलीथिन

फोटो – फुटपाथ सब्जी बिक्रेता द्वारा लगाया गया तंबू।

रिपोर्ट;ब्यूरो राम विलास,नालंदा।
राजगीर;-गर्मी के इस मौसम में धूप से हर कोई परेशान है. इस परेशानी से बचने के लिए हर कोई कुछ न कुछ जतन कर रहे हैं।चिलचिलाती धूप से अंतर्राष्ट्रीय पर्यटन केंद्र राजगीर के फुटपाथी दुकानदार और सब्जी विक्रेता भी परेशान हैं।उनके द्वारा धूप से बचने के लिए पॉलिथीन का शेड व तंबू बनाया जा रहा है।अंतर्राष्ट्रीय पर्यटन केंद्र राजगीर में वेंडिंग जोन का निर्माण अब तक नहीं किया जा सका है।फलस्वरूप सब्जी विक्रेता फुटपाथ पर ही जहां तहां अपनी दुकान लगाकर व्यवसाय करने के लिए मजबूर हैं।

इन दिनों सुबह से ही तीखी धूप का सामना करना पड़ रहा है।पहाड़ी क्षेत्र होने के कारण अन्य जगहों की तुलना में राजगीर में गर्मी अधिक पड़ती है।भीषण गर्मी से खुद और सब्जियों के बचाव के लिए दुकानदारों द्वारा पॉलिथीन का तंबू बनाया गया है।इससे दुकानदार खुद की रक्षा तो करते ही हैं।वे अपनी फल – सब्जियों की भी रक्षा करते हैं।राजगीर के गिरियक रोड चौराहा के पास कॉलेज रोड, बाजार रोड, पटेल चौक के आसपास धर्मशाला रोड, बिहार रोड और छबिलापुर रोड में बड़ी संख्या में फल – सब्जी की दुकानें सड़क किनारे फुटपाथ पर सजाई व लगाई जाती है।

फुटपाथ दुकानदारों के लीडर रमेश कुमार पान और गोपाल भवानी कहते हैं कि सरकार द्वारा अब तक राजगीर में वेंडिंग जोन का निर्माण नहीं किया जा सका है।इस कारण सभी सब्जी विक्रेता वर्षा और धूप से बचाव के लिए खुद की व्यवस्था के तहत पॉलिथीन का तंबू व शेड बनाकर अपनी जान माल की रक्षा करते हैं।फल विक्रेता पप्पू चौधरी, सब्जी विक्रेता राजेश कुमार, अनुज पंडित, मनोज कुमार, अजय चौधरी, प्रदीप कुमार, दिलीप कुमार, राकेश कुमार, रौशन कुमार एवं अन्य बताते हैं कि हरी और ताजा सब्जियों पर धूप का प्रतिकूल असर पड़ता है।सब्जियां सूखने लगती है. धूप में उसके रंग भी फीका होने लगते हैं। इन सब से बचने के लिए उन लोगों ने खुद पॉलिथीन का शेड और तंबू बना लिया है।सुबह में तंबू लगाते हैं और शाम दुकान बंद करने के साथ ही उसे खोल लेते हैं, ताकि कोई उसे नुकसान नहीं पहुंचा सके।

Leave a Comment