नगर परिषद की हुई पहली बजट बैठक 93 करोड़ पचास लाख का बजट पारित

फोटो – बैठक में शामिल अध्यक्ष एवं अन्य।

– नगर को सीसीटीवी कैमरा लैश किया जाएगा
– नगर के चौक चौराहों पर एलईडी स्क्रीन लगेगा
– नगर परिषद के सभी मुख्य मार्गों पर प्रवेश द्वार का निर्माण कराया जाएगा
– राजगीर नीर प्लांट लगाया जाएगा

रिपोर्ट;रामविलास,नालंदा।
राजगीर;-नगर पंचायत से नगर परिषद बनने के बाद बुधवार को आहूत बोर्ड की सामान्य बैठक में 93 करोड़ 50 लाख 13 हजार रुपए का बजट पेश किया गया, जो 22 करोड़ मुनाफे का बजट है।वर्ष 21 – 22 में 87 करोड़ एक लाख 60 हजार रुपए व्यय का अनुमान लगाया गया है।पिछले वर्ष 77 करोड़ 21 लाख 50 हजार 8 रुपए का बजट पेश किया गया था।इस बजट को नगर परिषद के मद्देनजर बनाया गया है।बजट में विभिन्न स्रोतों से आय को दर्शाते हुए खर्च भी दिखाया गया है।

वित्तीय वर्ष 21- 22 के लिए प्रस्तुत बजट में 10 बिंदुओं पर विशेष ध्यान दिया गया है।बैठक की अध्यक्षता मुख्य पार्षद मुन्नी देवी द्वारा किया गया।नगर कार्यपालक पदाधिकारी शशि भूषण प्रसाद ने बताया कि कोरोना के कारण बजट अनुमोदन में अनावश्यक विलंब हुआ है।गहमागहमी के माहौल में बजट का अनुमोदन किया गया लेकिन इस बैठक में पार्षदों के द्वारा कई गंभीर आरोप लगाए गए।उनके द्वारा कई योजनाओं में धांधली की जांच की भी मांग की गई। पार्षदों ने योजनाओं को हर हाल में गुणवत्तापूर्ण धरातल पर उतारने की आवश्यकता पर जोर दिया।

कागज पर नहीं धरातल पर विकास कार्यों को प्राथमिकता देने को लेकर टोका टोकी भी खूब हुआ।बजट में कर्मियों के वेतन, वाहन एवं अन्य विषयों पर चर्चा हुई और राशि का अनुमोदन किया गया।बैठक के बाद नगर कार्यपालक पदाधिकारी शशिभूषण प्रसाद ने बताया कि शहर के विभिन्न मार्गो और चौक चौराहों पर महिला और पुरुष के लिए अलग-अलग यूरिनल, नागरिक सुविधा केंद्र, यात्री सेड, ट्रैफिक पोस्ट का निर्माण कराया जाएगा।शहर के सभी पार्क का सौन्दर्यीकरण का प्रस्ताव पास किया गया है।

उन्होंने बताया कि राजगीर नगर परिषद द्वारा नगर में राजगीर नीर प्लांट बैठाया जाएगा।उस प्लांट से स्थानीय नागरिकों और देशी-विदेशी पर्यटकों को 20 रुपये बोतल की जगह है मात्र आठ रुपये बोतल पानी उपलब्ध कराया जाएगा।उन्होंने बताया कि राजगीर के वीरायतन रोड को मॉडल रोड बनाया जाएगा। शहर के चप्पे-चप्पे में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे।इसके अलावा चौक चौराहों पर एलईडी स्क्रीन लगाए जाएंगे।नगर परिषद के सभी प्रवेश द्वारों पर आकर्षक प्रवेश द्वार का निर्माण कराया जाएगा।शहर के विभिन्न चौक चौराहों पर नगर परिषद के पदाधिकारियों, वार्ड पार्षदों और कर्मियों का नाम, पदनाम और मोबाइल नंबर प्रदर्शित किया जाएगा।जरूरतमंद लोग संबंधित व्यक्ति, पार्षद अथवा पदाधिकारी से संपर्क स्थापित कर सकें।

– बैठक में विभिन्न मद से दिखाए गए आए

होल्डिंग टैक्स और मुद्रांक शुल्क – तीन करोड़ 50 लाख मोबाइल टावर – आठ लाख
सम्राट अशोक भवन – आठ लाख
अतिथि गृह – साढ़े तीन लाख
ट्रेड लाइसेंस – 50 लाख
विकास शुल्क – साढ़े छह लाख
आवारा पशु – 33 हजार
होडिंगस – साढ़े पांच लाख
प्रोफेशनल टैक्स – 30 लाख
सर्विस चार्ज – 26 लाख 53 हजार
सैरात, पार्किंग और दुकान – एक करोड़ 39 लाख
केंद्र और राज्य मद – 82 करोड़ 72 लाख
फार्म ,प्रकाशन, बिक्री और उपकरण – 44 लाख
मिसलेनियस – साढ़े 12 लाख

निम्नलिखित एजेंडों पर हुई चर्चा

गत बैठक की संपुष्टि, सशक्त स्थाई समिति की बैठक की संपुष्टि, वित्तीय वर्ष 2021-22 के बजट प्राक्कलन का अनुमोदन, नल जल योजना, जल जीवन हरियाली योजना, वार्डों में डोर टू डोर कचरा संग्रहण, वार्डों में विद्युत पोल एवं विद्युत कनेक्शन, सीवरेज, नगर में नागरिक सुविधाओं से संबंधित योजनाएं, परिषद कर्मियों का षष्टम वेतन, एरियर, महंगाई भत्ता, पेंशन एवं अन्य विषयों पर गहमागहमी चर्चा हुई।

Comments are closed.