नगर परिषद के सफाई वाहन चालको का बेमियादी हरताल

रिपोर्ट, मो.अंजुम आलम, जमुई (बिहार)
जमुई: नगर परिषद में हड़ताल का सिलसिला रुकने का नाम नहीं ले रहा है। जहां एक माह से दैनिक सफाई मजदूर अपनी मांग को लेकर हड़ताल पर गए हुए हैं। तो वहीं सोमवार से नप के सफाई वाहन चालक भी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए हैं। जिसके कारण सोमवार को सफाई कार्य पूरी तरह ठप हो गया। इधर सफाई कार्य बंद होने के कारण शहर के बिहारी शास्त्री कालोनी महाराजगंज बोधवन तालाब पंचमंदिर महिसौडी कल्याणपुर बिठलपुर पुरानी बाजार कृष्णपट्टी मुहल्ले मे कचरों का अंबार लग गया है। बाजार की सड़कों पर पड़े कूड़े नगर परिषद के सफाई व्यवस्था पर सवाल उठा रहा है। नप सफाई चालकों ने बताया की दिसंबर 2019 में हुई बोर्ड की बैठक में ही उनलोगों द्वारा वेतन बढ़ोतरी की मांग को लेकर ज्ञापन सौंपा गया था। अब माह बीत गए लेकिन हमलोगो की मांग पर कोई विचार नहीं किया गया। बता दें कि वेतन की बढ़ोतरी की मांग को ले चालकों द्वारा नगर परिषद के मुख्य द्वार पर प्रदर्शन किया गया इसके बाद चालक नौशाद अली किशोरी यादव प्रभाकर रावत मुकेश कुमार लालू कुमार शंभू कुमार प्रेम विक्रम सिंह रंजीत कुमार पवन पासवान पंचम साह द्वारा अपनी मांग का ज्ञापन नप अधिकारी को सौंपा गया। बता दें कि सफाई गाड़ी चालक के मदद से ही मशीन द्वारा कुछ गिने चुने जगहों पर सफाई कार्य होता था।अब चालको के हडताल पर चले जाने के बाद सफाई का कार्य पूरी तरह ठप हो गई है। जिस वजह से शहर वासियों को चिंता सताने लगी है। बताया जाता है की नप अधिकारी और नप अध्यक्ष का अंदरूनी लडाई होने की वजह से नप के अधिकांश कार्य में बाधा उत्पन्न हो रही है।इसका खामयाजा मजदूर चालक जमादार के साथ साथ शहर वासियों को भुगतना पड़ रहा है।
———
-15 स्थाई मजदूर भी हड़ताल पर जाने की कर रहे सुगबुगाहट

नगर परिषद मे 15 अस्थाई मजदूर भी सोमवार को आपसी चर्चा मे हडताल पर जाने की सुगबुगाहट कर रहे थे। बताया जाता है की इनलोगों को एरियल दिलाने के नाम पर नप कर्मी द्वारा पैसा लिया गया था।पैसा लेने बाद भी एरियल नही आने की वजह से इनलोगों मे भी हड़ताल करने की बात चल रही है। यहां यह बताना जरूरी है की यदी स्थाई मजदूर हडताल पर चले जाते है तो बाबुओं के आवास की सफाई बंद हो जाएगी।क्योंकी ज्यादातर इनलोगों द्वारा साहबों के क्वाटर में ही सफाई का कार्य किया जाता है।

Comments are closed.