पुलवामा में हुए आतंकवादी हमले से पूरे जिले में गम और गुस्से की लहर


रिपोर्ट- आशुतोष कुमार
रोहतास। पुलवामा में हुए आतंकवादी हमले से पूरे जिले में गम और गुस्से की लहर दौड़ गई। सबने आतंकियों की इस कायराना हमले की कड़ी निंदा की और शहीद जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित की। साथ ही कहा कि अब आतंकवादियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जरूरत है। नासरीगंज प्रखण्ड के मॉडर्न इंग्लिश स्कूल, सेंट माईकल एकेडमी, ज्ञान स्थली आधार विद्यालय, सनसाईन पब्लिक स्कूल, उच्च विद्यालय नासरीगंज आदि विद्यालय के विद्यार्थियों ने दो मिनट का मौन धारण कर शहीदों को सच्ची श्रद्धांजलि दी। साथ ही शहीदों के परिवार को दुख सहने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना की।
सोशल मीडिया पर भी जिलेवासियों की नाराजगी देखने को मिली है। ज्यादातर लोगो ने पाकिस्तान को सबक सिखाने की बात कही है। उन्होंने मोदी सरकार से अपेक्षा की है कि सीआरपीएफ जवानों की शहादत का बदला ले। अगर ऐसा नहीं हुआ तो 56 इंच का सीना किस काम का।
वहीं भाजपा के जिला कार्यसमिति सदस्य सह काराकाट विधानसभा क्षेत्र के सोशल मीडिया प्रभारी अमित कुशवाहा ने कहा कि पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर कायरतापूर्ण हमले की जितनी निंदा की जाए, कम है। श्रद्धांजलि तभी सफल होगी, जब हम इस घटना में शामिल आतंकवादियों के साथ-साथ देश में छुपे गद्दारों को चुन-चुन कर बीच चौराहे पर लाकर मौत की घाट उतार दें। हम माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मांग करते हैं इन गद्दारों को आतंकवादियों से पहले मौत के घाट उतारा जाए उसके बाद दुश्मन देश में छुपे आतंकवादियों को और पाकिस्तान को नक्शे से मिटाने का आप कार्य करेंगे। आप इस शहादत को बदला अवश लेंगे। हमारी मांग है कि केंद्र सरकार आतंकियों के खिलाफ कठोर और प्रभावी कार्रवाई करे।
प्राइवेट स्कूल एंड चिल्ड्रन वेलफेयर एसोसिएशन के जिला उपाध्यक्ष एवं मॉडर्न इंग्लिश स्कूल के निदेशक सुभाष कुमार कुशवाहा ने कहा कि सेना के काफिले पर हुए आतंकवादी हमले में जवानों के शहीद होने की खबर बेहद ही दुखद है। मैं वीर जवानों को शहादत को कोटि-कोटि नमन करता हूं और शहीदों के परिजनों के प्रति अपनी गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं। ईश्वर शहीदों के परिवारों को दुख सहने की शक्ति दे तथा घायल जवानों को शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं और शहीद हुए जवानो को 2 मिनट का मौन रखते हुए सभी जवानों को आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से हम लोग प्रार्थना करते हैं कि उनकी आत्मा को शांति मिले। आज पूरे भारतवर्ष में पाकिस्तान के इस शर्मनाक हरकत के लिए मुंहतोड़ जवाब केंद्र सरकार को देना चाहिए।
इस मौके पर प्राइवेट स्कूल एंड चिल्ड्रेन वेलफेयर एसोसिएशन के जिला उपाध्यक्ष सुभाष कुमार कुशवाहा, प्रधानाध्यापक हुमायूं हुसैन उर्फ रुमी हुसैन, प्रधानाचार्य सत्यनारायण प्रसाद सिंह, तेजनारायण सिंह, सूरज प्रसाद, विकास कुमार, निकेतन कुमार, मधु कुमारी, गजाला शाहीन, शिक्षक मृत्युंजय कुमार, राजेश कुमार, दीपक कुमार, पिंटू कुमार, राहुल कुमार, अकाश कुमार, कुसुम कुमारी, रुमी खातून, श्वेता कुमारी, दीपक कुमार समेत कई शिक्षक व बच्चे मौजूद थे।

Comments are closed.