प्रज्ञा सिंह ठाकुर और साक्षी महाराज की सांसद सदस्यता किया जाए रद्द:-भाकपा माले

रिपोर्ट,मो.अंजुम आलम,जमुई (बिहार)
जमुई:- शुक्रवार को भाकपा- माले द्वारा राष्ट्रव्यापी सेकुलर मार्च निकाला गया। मार्च का नेतृत्व भाकपा-माले के जिला सचिव शंभशरण सिंह ने किया। मार्च शहर के श्रीकृष्ण सिंह स्टेडियम के मैदान से निकलकर शहर के थाना चौक, सदर अस्पताल रोड होकर अम्बेडकर चौक पहुंचकर सभा में तब्दील हो गई। सभा को संबोधित करते हुए जिला सचिव ने कहा कि सर्वोच्च न्यायालय के फैसले के अनुरूप 6 दिसंबर 1992 को बाबरी मस्जिद विध्वंस को एक जुर्म मनाया गया लेकिन विध्वंसकारी दोषियों को सजा नहीं दी गई। वैसे लोगों को सजा दिया जाए। प्रज्ञा सिंह ठाकुर और साक्षी महाराज की सांसद सदस्यता रद्द किया जाए। वहीं एक्टू प्रभारी बासुदेव राय ने कहा कि मोदी सरकार द्वारा फासीवादी, हमला, सांप्रदायिक माहौल बनाई जा रही है। देश के मजदूर, किसान, नौजवानों के साथ मजदूरी, रोजगार में कटौती हो रही है इससे ध्यान को बांटा जा रहा है। देश के संवैधानिक संस्थान को नीजीकरण किया जा रहा है। वहीं इंकलाबी नौजवान सभा के प्रभारी जयराम तूरी ने कहा कि देश के लोकतंत्र पर खतरा है। नौजवानों को रोजगार नहीं दी जा रही है। शिक्षा के अधिकार पर भी हमला है। आगामी 10 दिसंबर को शिक्षा अधिकार और एनआरसी बिल के विरूद्ध राष्ट्रव्यापी विरोध मार्च निकाला जाएगा। इस अवसर पर संजय राय, गुलटन पुजहर, मो. शमीम अंसारी, मो. इजराईल अंसारी, महेंद्र यादव, कारू मांझी, सीताराम यादव, इलीयास हेंब्रम, बासुदेव हांसदा, कल्लू मरांडी, बड़की मरांडी, सुनीता देवी, मंजू देवी सहित काफी संख्या में भाकपा-माले के सदस्य मौजूद थे।

Comments are closed.