पढ़ाई के बजाय ऑनलाइ लॉटरी के पीछे भविष्य तालाश रहे युवा

-शहर के भछियार मुहल्ला में राजारानी लॉटरी का धड़ल्ले से चल रहा है खेल

-11 रुपए लॉटरी की है क़ीमत,जीतने पर 10 गुना मिलती है राशि

-लखीसराय के एक एजेंट द्वारा तैयार किया गया है ग्रुप

-सुबह 8:30 बजे से शाम 6 बजे तक चलता है खेल

रिपोर्ट, मो. अंजुम आलम,जमुई (बिहार)
जमुई:- इन दिनों शहर के भछियार मुहल्ला में युवाओं का एक बड़ा समूह ऑनलाइन लॉटरी खेलने के पीछे दीवाना बना हुआ है। पढ़ाई के बजाय सुबह उठते ही युवा पैसा कमाने के ललक में अपने-अपने एंड्राइड मोबाइल से गूगल पर राजरानी ऐप खोलकर नंबर ढूंढने में लग जाते हैं। और शाम तक नंबर मिलने के इंतेज़ार में लगे रहते हैं। इस लॉटरी में लागत कम और मुनाफा 10 गुणा होने की वजह से बड़ी संख्या में युवा जुड़ते जा रहे हैं। और खुद की जिंदगी को दांव पर लगा कर तबाह करने में तुले हुए हैं। धीरे-धीरे यह लॉटरी भछियार मुहल्ला सहित अन्य मुहल्लों में भी करेज बना रहा है। लेकिन इसकी भनक अबतक पुलिस को नहीं लगी है। जिस वजह से युवाओं की तादात बढ़ती जा रही है। हालांकि इस खेल में युवाओं के बीच झगड़ा भी होता है लेकिन खेल की भनक दूसरों या प्रशासन तक नहीं पहुंच जाए इससे पहले अन्य युवा द्वारा झगड़ा को शांत कर दिया जाता है।
—-
– 11 रूपया है एक लॉटरी की कीमत,मिलता है 10 गुणा

कुछ दिन पूर्व ऑनलाईन राजारानी लॉटरी की किमत मात्र 10 रूपया था। लेकिन इन दिनों युवाओं के बीच ज्यादा प्रसिद्ध होने की वजह से प्रत्येक लॉटरी की किमत 11 रूपया हो गया है। बताया जाता है कि एक लॉटरी के फसने पर 10 गुणा का फायदा होता है। कई बार ऐसा भी होता है कि कई युवा बहुत अधिक लॉटरी की खरीद तो कर लेते है लेकिन उनका बताया हुआ अंक नहीं आने के कारण उनका पूरा पैसा चला जाता है।
—–
-इस प्रकार खेला जाता है ऑनलाईन राजारानी लॉटरी

एंड्राइड मोबाइल से गुगल में राजारानी कूपन का सर्च किया जाता है। सर्च के बाद एक ऑपशन रिजल्ट आता है। रिजल्ट पर क्लिक करने पर कौन अंक खेला इस बात की जानकारी हो जाती है। जिन-जिन युवाओं के द्वारा लगाए गए अंक अगर मिल गया तो उसे खरीद किए गए सारे लॉटरी का 10 गुणा ज्यादा राशि दिया जाता है। इस प्रकार हर आधे घंटे में राजारानी का रिजल्ट आता ही रहता है। बताया जाता है कि यह प्रक्रिया सुबह 8.30 बजे से शुरू होकर शाम 6 बजे तक लगातार चलता ही रहता है।
——-
-लखीसराय के एजेंट द्वारा बनाया गया है ग्रुप

सूत्रों की माने तो ऑनलाईन राजारानी लॉटरी का खेल पहले लखीसराय में होता था। लेकिन पिछले तकरीबन आठ माह से यह खेल जमुई शहर में भी काफी तेजी के साथ फैला है। लखीसराय एजेंट द्वारा शहर के कई युवाओं को अपने ग्रुप में शामिल किया गया है। उक्त युवा शहर के विभिन्न मुहल्ला में लॉटरी खेलाने का काम कर रहे है। एजेंट द्वारा प्रत्येक दिन अपने ग्रुप के युवा को पैसा देकर चला जाता है। शहर के युवा कौन-कौन अंक में लोगों द्वारा पैसा लगाया गया है कि इसकी जानकारी अपने मोबाइल से एजेंट को भेजा जाता है। उसके बाद निर्धारित समय पर लॉटरी का खेल होता है। जिन अंक का खेल होता है। उस अंक में लगाए गए राशि का 10 गुणा देने के बाद बाकी राशि उनके पास बच जाता है। उक्त एजेंट को यहां के युवा शाम 6 बजे के बाद हिसाब देते है।

जमुई थानाध्यक्ष,चंदन कुमार ने बताया की फिलहाल इस मामले की जानकारी मुझे नहीं है, लेकिन अब जानकारी हुई है। लॉटरी खेलने और खिलाने वाले कि तालाश की जाएगी। जल्द ही पुलिस लॉटरी ग्रुप की तहक़ीक़ात कर सख्त कार्रवाई करेगी।

 

Comments are closed.