बेतिया मे अविश्वास प्रस्ताव पारित, बेतिया नगर परिषद सभापति की गई कुर्सी 

रिपोर्ट; शाहीन सबा,बेतिया।
बेतिया;- पश्चिम चंपारण जिला मुख्यालय बेतिया स्थित नगर परिषद के सभापति गरिमा देवी सिकारिया के विरुद्ध अविश्वास प्रस्ताव सोमवार को पारित हो गया। अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में 19 मत पड़े। एक मत से सभापति की कुर्सी खिसक गई। इससे पूर्व भारी सुरक्षा व्यवस्था के बीच अविश्वास प्रस्ताव को लेकर नगर परिषद की विशेष बैठक हुई। बैठक की अध्यक्षता उपसभापति कयूम अंसारी ने की। सबसे पहले प्रस्ताव को लेकर बहस हुई। इसके बाद मत विभाजन से प्रस्ताव पर फैसले की सहमति बनी।

मत विभाजन में अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में 19 मत पड़े। सभापति के पक्ष में 18 पार्षद रहे। सभापति की कुर्सी एक मत से खिसक गई। हलांकि बाद में सभापति के समर्थक पार्षदों ने मतगणना में गड़गड़ी का आरोप लगाया। नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी विजय कुमार उपाध्याय और जिलाधिकारी कुंदन कुमार को दोबारा गिनती के लिए ज्ञापन सौंपा गया। इसकी सूचना पर मतविभाजन करवा कर लौट चुके एसडीएम विद्यानाथ दोबार नगर परिषद सभागार पहुंचे। उन्होंने नियमों का हवाला देकर दोबारा मतगणना से इनकार कर दिया। इससे ज्ञापन सौंपने वाले पार्षदों ने नाराजगी जताई।

नगर परिषद सभागार में हुई विशेष बैठक में 37 में 36 पार्षदों ने हिस्सा लिया। सभापति गरिमा सिकारिया बैठक से अनुपस्थित रहीं। बता दें कि बेतिया नगर परिषद में 39 वार्ड हैं। इसमें वार्ड-5 की पार्षद कौशल्या देवी व 13 की पार्षद इजहार हुसैन का निधन इसी साल हो गया है। ऐसे में शेष 37 वार्ड पार्षदों के बीच अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष या विपक्ष में मतदान किया जाना था। इसमें 11 पार्षद उपस्थिति दर्ज कर बैठक से निकल गये। बहस और मतदान में 26 पार्षद उपस्थित रहे। इसमें चार पार्षदों ने सभापति के पक्ष मतदान किया। तीन बैलेट सादा निकला। अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में 19 मतों की गिनती की गई। 18 की तुलना में 19 मतों से अविश्वास प्रस्ताव को पारित कर दिया गया।

Comments are closed.