भाषण प्रतियोगिता से तकनीकी ज्ञान के साथ बौद्धिक क्षमता में होती बृद्धि;-कुलपति

अंतर भाषण प्रतियोगिता में 10 कृषि विवि का प्रतिनिधित्व कर रही पूसा केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय।
ऊर्जा एवं कृषि की चुनौतियों पर प्रतियोगिता।

रिपोर्ट;रेणु कुमारी,पूसा।
पूसा;- डॉ राजेन्द्र प्रसाद केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय स्थित कृषि अभियांत्रिकी महाविद्यालय के सभागार में 21वीं सदी में ऊर्जा एवं कृषि की चुनौतियों विषय पर ऑनलाइन अंतर विवि भाषण प्रतियोगिता शुरू हुई। जिसकी अध्यक्षता करते हुए कुलपति सह जोन 4 के जोनल कॉर्डिनेटर डॉ रमेश चन्द्र श्रीवास्तव ने कहा कि किसी भी खास विषय पर अंतर विवि भाषण प्रतियोगिता से छात्र छात्राओं में तकनीकी ज्ञान के साथ साथ बौद्धिक क्षमता में भी बृद्धि होती है।

इस भाषण प्रतियोगिता में जोन 4 के पूर्वी एवं उत्तर पूर्व भारत मे अवस्थित 10 कृषि विवि से दो दो चयनित छात्र छात्राओं ने हिस्सा लिया है। प्रत्येक विवि से दो दो प्रतिभागियों ने अपना विचार पावरपॉइन्ट प्रस्तुति के माध्यम से व्यक्त किया। जिसमे मुख्यरूप से केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय पूसा से मेघा व बिनोद एवं एलिना व एंटोनी, वेस्ट बंगाल यूनिवर्सिटी ऑफ एनिमल एन्ड फिशरी साइंसेज कोलकोता से शैलेश महापात्रा व समीरन मुख़र्जी, बिहार कृषि विश्वविद्यालय सबौर से ऋचा व प्राची, ओड़िसा यूनिवर्सिटी ऑफ एग्रीकल्चर एन्ड टेक्नोलॉजी भुवनेश्वर, बीसीकेवी वेस्ट बंगाल से पारिजात, पाली शिक्षा भवन से उदित व शौरिष, असम एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी जोरहट से अस्मिता व स्वरूप, सेंट्रल एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी इम्फाल मणिपुर से सौम्या व जेसिका, बिहार एनिमल साइंसेज यूनिवर्सिटी पटना से प्रिंस व रूपनारायण, बीएयू कांके रांची से रौनक व पायोझा ने भाग लिया।

इस 19 प्रतिभागियों में से मात्र दो चयनित प्रतिभागी को बीएचयू वाराणसी में होने वाली समारोह में भाग लेने का अवसर मिलेगा। मौके पर जजेज में डीन डॉ सोमनाथ राय चौधरी, डॉ बी कुमार, डीएसडब्लू डॉ रंजन लायक मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन ई अनुपम अमिताभ, एवं धन्यवाद ज्ञापन डॉ मुकेश कुमार ने की। वही सभागार में डॉ सपना, उप निदेशक सोफिया खानम, रविशंकर झा, राजकिशोर राय, अवधेश कुमार आदि मौजूद थे।

Comments are closed.