मनरेगा योजनाओं में फर्जी निकासी के खिलाफ पीओ का पुतला दहन

रिपोर्ट;ब्यूरो रमेश शंकर झा,
समस्तीपुर:- जिले के भाकपा-माले ने उजियारपुर प्रखंड क्षेत्र के गावपुर चौक पर मनरेगा में फर्जीवाड़ा के खिलाफ प्रर्दशन करते हुए गांव-गांव तक लोगों को जागरूक करने और 24 जुलाई को जनहित से जुड़े 13 सूत्री मांगों को पूरा करने को लेकर लोगों से प्रखंड मुख्यालय चलने का अपील किया। इसी दौरान गावपुर के जोगी चौक पर मनरेगा के कार्यक्रम पदाधिकारी का पुतला दहन किया। वहीं माले के प्रखंड कमेटी सदस्य गंगा प्रसाद पासवान ने कहा कि मनरेगा के योजनाओं में फर्जीवाड़ा कर पी०ओ० इल्ताफ हुसैन की मिलीभगत से लाखों रुपए की गबन किया गया है।

भगवानपुर कमला , रायपुर, पतैली पश्चिमी और मालती सहित अन्य पंचायत में योजना में बगैर काम कराए हीं फर्जी तरीके से राशि की निकासी कर लिया गया है। मालती वार्ड संख्या- 4 स्थित नवसृजित माध्यमिक विद्यालय के प्रधानाध्यापक द्वारा चुपके से पूर्व मुखिया राजेन्द्र प्रसाद सिंह वार्ड संख्या-6 के दोनों पुत्र को रात्रि प्रहरी और दैनिक मजदूरी पर परिचारिका में चयन कर लिया गया है। विद्यालय के मध्याह्न भोजन और छात्रवृत्ति की राशि वितरण सहित अन्य विकास राशि में धांधली किया गया है।

इन सब के खिलाफ इन्कलाबी नौजवान सभा (इनौस) के बैनर तले 22 जुलाई 2021 से मालती में अनिश्चितकालीन भूख-हड़ताल शुरू किया जाएगा। उन्होंने कहा कि मनरेगा योजना में फर्जीवाड़ा के खिलाफ अलग से अनिश्चितकालीन भूख-हड़ताल शुरू किया जाएगा। वहीं भाकपा-माले जिला स्थायी कमेटी के सदस्य और उजियारपुर के प्रभारी फूलबाबू सिंह ने कहा कि उजियारपुर प्रखंड क्षेत्र में राशन के उठाव और वितरण में बड़े पैमाने पर गड़बड़ी किया जाता है, पीला कार्ड के लाभार्थी को डीलरों द्वारा प्रतारित कर राशन नहीं दिया जा रहा है।

क्योंकि डीलरों को एम०ओ० से मिलीभगत है, इसलिए शिकायत का भी कोई असर नहीं होता है। नये राशन कार्ड बनवाने और बना दिए गए राशनकार्ड लाभार्थी को डीलर द्वारा वितरण किए जाने में मोटी राशि की वसूली की जा रही है। नये राशन कार्ड पर आवंटन पिछले दो माह से किया जाता है लेकिन लाभार्थी को राशन कार्ड ही नहीं दिया गया है। किसानों से पैक्स द्वारा गेहूं खरीद में भी बड़े पैमाने पर गड़बड़ी की गई है, कागज पर हीं गेहूं की खरीद हुई है। वहीं समय से पहले वारिश के कारण किसानों के खेतों में लगा फसल बर्बाद हो गया है, आगे भी फसल लगाने की कोई उम्मीद नहीं है।

सरकार मुआवजा देने के बजाय केसीसी सहित अन्य ऋण वसूली पर जोड़ दे रही है, तत्त्काल केसीसी सहित अन्य ऋण सरकार माफ करे। उपरोक्त मांगों को भी 24 जूलाई2021 को प्रखंड मुख्यालय पर भाकपा-माले द्वारा होने जा रहे प्रर्दशन में शामिल किया गया है। इस कार्यक्रम के मौके पर रासो कुमार, मुन्ना कुमार सिंह, राकेश कुमार, नवीन कुमार, मो० सकुर, बालेश्वर सहनी, अर्जुन दास, अमित कुमार राम, गुड्डू कुमार, भीम सहनी, मो० यूसूफ, दिनेश प्रसाद सिंह, बौधु महतो, राम सकल सिंह, नारायण सिंह, मो० आजाद सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

Leave a Comment