मातेश्वरी जगदम्बा सरस्वती साक्षात दुर्गास्वरूप :- बहन प्रियंका

फोटो – कार्यक्रम में शामिल अतिथि

रिपोर्ट;ब्यूरो राम विलास,नालंदा।
राजगीर;-प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय शाखा राजगीर में मातेश्वरी जगदंबा सरस्वती का 56 वीं पुण्यतिथि गुरुवार को मनाई गई. इस कार्यक्रम में राजगीर सीओ मृत्युंजय कुमार सहित अनेक गणमान्य लोग शामिल हुए।इस अवसर पर बहन प्रियंका ने कहा कि मातेश्वरी जगदंबा का जीवन बहुत ही अद्भुत था।उनसे मिलने वाले उनके हो जाते थे।उन की धारणा थी कि परमपिता परमात्मा जो ज्ञान सुनाएं उनका वह जीवन में खुद अनुसरण करें और दूसरों को भी प्रेरित करें।

उन्होंने कहा कि वे हम सभी के प्रेरणास्रोत रहे हैं।आज उनके बताए हुए मार्ग पर चलकर उनके जैसा जगदंबा सरस्वती बन सकते हैं।उनकी कही हुई बातों को आज जीवन के अंदर देखा जाए तो बहुत ही बदलाब हो सकता हैं।उन्होंने आगे कहा कि मातेश्वरी के आगे कोई भी व्यक्ति काम, क्रोध, लोभ, मोह, अहंकार से ग्रसित होकर उनके आगे आता था, उनको शांति और शीतलता का अनुभव होता था।ऐसा प्रतीत होता था कि वह कोई साधारण कल्याण से नहीं बल्कि किसी देवी से मिल रहा है।

उनसे साक्षात्कार होने के बाद प्राणी नतमस्तक होकर के वहां से जाता था।श्रद्धालु कहते थे वहां पर जो मम्मा है वह कोई साधारण नहीं, वह साक्षात में दुर्गा हैं।
इस अवसर पर राजगीर रेलवे स्टेशन के पूर्व प्रबंधक मंतोष कुमार मिश्रा,शशि शेखर सिंह, बहन उजाला कुमारी , कोमल बहन ,आनंदी माता जी, रिंकू बहन,
रमेश कुमार पान, जय शंकर भाई, के अलावे अन्य लोग उपस्थित थे।

Comments are closed.