मारपीट व लूट- पाट मामले में राज्यपाल को आवेदन देकर न्याय की लगाई गुहार

रिपोर्ट, मो.अंजुम आलम, जमुई (बिहार)
जमुई: एक जनवरी को हुए मारपीट व लूट- पात मामले में खैरा थाना क्षेत्र के तेतरिया गांव के दलित समुदाय के लोगों ने राज्यपाल को आवेदन देकर कार्रवाई की मांग की है। साथ ही एक प्रतिलिपि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, डीआईजी मुंगेर, कमिश्नर मुंगेर, महिला आयोग पटना, अनुसूचित जाति आयोग पटना और अनुसूचित जाति / जनजाति कर्मचारी संघ पटना को दिया है। आवेदन में बताया गया कि तेतरियाटांड़ गांव निवासी मकेश्वर यादव, रविंदर यादव, ईश्वर यादव, एक जनवरी की शाम रविदास टोले में आया और एक महिला के साथ बदतमीजी करने लगे जब महिला ने हल्ला की तो सभी लोग इकट्ठे हुए तब तक वे लोग धमकी देते हुए भाग गए। उसके बाद तीनों युवकों के साथ विपिन कुमार यादव, अशोक यादव, पिंटू यादव सहित एक दर्जन लोग लाठी- डंडा व तलवार लेकर रविदास टोले में आ गया और टोले के सभी घरों में घुसकर सब की पिटाई कर दी। साथ ही महिलाओं के साथ मारपीट करते हुए छेड़खानी भी की गई। एवं दो मोटरसाइकिल को भी डंडे से मारकर क्षतिग्रस्त कर दिया गया। साथ ही घर में जमकर लूटपाट की गई। इस दौरान आधा दर्जन घरों से करीब नगद सहित डेढ़ लाख की संपत्ति लूट लिया। घटना के बाद खैरा थाना में मुकदमा दर्ज कराने जब सभी लोग गए तो खैरा थाना अध्यक्ष द्वारा डांट कर भगा दिया गया और कहा गया कि महिला थाना जमुई में मुकदमा दर्ज कराओ। 4 जनवरी को फुलवा देवी महिला थाना जमुई को भी आवेदन दी परंतु अबतक कोई कार्यवाही नहीं हुई। मामले को लेकर सभी दलित लोगों ने आरोपितों पर सख्त कार्रवाई करने वह ग्रामीणों की इज्जत आबरू एवं जानमाल की रक्षा करने की गुहार लगाई है।

Comments are closed.