मूर्ति विसर्जन में हुए विवाद को लेकर 24 घंटे बाद कि गई गोलीबारी,एक व्यक्ति जख्मी


~फायरिंग के दौरान एक व्यक्ति के सीने में लगी गोली,
~गंभीर अवस्था में किया गया पटना रेफर
~मूर्ति विसर्जन के दौरान बुधवार की रात दो गुटों में हुआ था पथराव,
~झड़प में दोनो तरफ से आधा दर्जन लोग हुए थे जख्मी
~बुधवार को हुए विवाद की रंजिश में एक पक्ष द्वारा की गई गोलीबारी,

रिपोर्ट,मो.अजीम आलम,जमुई (बिहार)
जमुई,सिकन्दरा:-सिकंदरा थाना क्षेत्र के ईंटासागर गांव में मूर्ति विसर्जन को लेकर बुधवार को दो पक्षों के बीच हुए पथराव का मामला अब गंभीर रूप लेता जा रहा है।इस मामले को लेकर दूसरे दिन भी तनाव की स्थिति बरकरार रही।गुरुवार की देर शाम एक पक्ष के द्वारा दूसरे पक्ष पर उस वक़्त ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी गयी जब कुछ लोग गांव के ही ठाकुरबाड़ी में हो रहे पूजा/आरती में शामिल होने गए थे।वहीं मजदूरी कर लौट रहे उमेश सिंह के पुत्र श्रीनिवास सिंह को फायरिंग के दौरान एक गोली दाहिने सीने में लग गई।जिससे मज़दूर गंभीर रूप से जख्मी हो गया।
हालांकि पुलिस द्वारा युवक को गम्भीर अवस्था में इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया जहाँ चिकित्सक द्वारा प्राथमिक उपचार के दौरान गोली युवक के सीने में लगने के बाद उसके पंजड़े में फंसे रहने की वजह से उसकी स्थिति गम्भीर बताते हुए पटना रेफर कर दिया गया।इधर पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई है।वहीं सिकन्दरा थानाध्यक्ष ने बताया कि मामला को शांत कर दिया गया है आरोपी की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी को जा रही है।जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।
बताते चलें कि बुधवार की शाम मूर्ति विसर्जन के दौरान दो पक्षों के बीच हुए रोड़ेबाजी की घटना के बाद गुरुवार को दोनों पक्षों के द्वारा सिकंदरा थाना में दर्जनों लोगों को नामजद करते हुए अलग अलग प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी। परंतु पुलिस की लापरवाही के कारण उपद्रवी तत्वों का मनोबल बढ़ता गया और गुरुवार की शाम एक पक्ष के लोगों ने दूसरे पक्ष पर गोलीबारी शुरू कर दी। बताते चलें कि बुधवार को दोनों पक्षों के बीच हुई रोड़ेबाजी के बाद पुलिस रात भर ईंटासागर गांव में कैंप किए रही। लेकिन दोनों पक्षों के बीच व्याप्त तनाव के बावजूद गुरुवार की सुबह गांव से पुलिस को हटा लिया गया था। जिसका फायदा उठाकर एक पक्ष के लोगों को दूसरे पक्ष पर गोलीबारी का मौका मिल गया।
बताया जाता है कि पुलिस नहीं रहने की वजह से एक पक्ष द्वारा दर्जनों राउंड फायरिंग भी की गई है।इस सम्बंध में घायल निवास सिंह ने बताया कि विशेसर यादव के पुत्र द्वारा गोलीबारी की गई थी और उसके साथ मुकेश यादव,नारायण यादव सहित दर्जनों लोग शामिल थे।फायरिंग से पूरे ग्रामीण दहशत में हैं।इधर घटना स्थल पर पहुंची पुलिस द्वारा पूरे गांव में मार्च कर शांति कायम कर रही है और गोलीबारी के अभियुक्त की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।लेकिन गोलीबारी की घटना से लोगों में आक्रोश व्याप्त है।

Comments are closed.