राजगीर में तार तार हो रहा लॉकडाउन गाइडलाइन

फोटो – बाजार में उमड़ रही भीड़

रिपोर्ट;ब्यूरो राम विलास,नालंदा।
राजगीर;-रविवार से लॉकडाउन 2 शुरू हो गया।पुलिस – प्रशासन के मशक्कत बाद भी लॉकडाउन गाइडलाइन का अनुपालन राजगीर में कहीं नहीं दिख रहा है।सामान्य दिनों की तरह राजगीर की सड़कों पर और बाजार में भीड़ उमड़ती रहती है।प्रतिबंध के बाद भी बेखौफ वाहनों का परिचालन होता रहता है।बिना ई पास के वाहनों की रोक टोक राजगीर में नहीं की जाती है।कार्यालय समय से 10 बजे बाद सड़क पर पुलिस की दस्तक पड़ती है।यहाँ के चौक चौराहे पर तैनात पुलिस बिना मास्क और हेलमेट के वाइकर्स को रोकना टोकना बाजिब नहीं समझती है।

इसलिए शहर में बिना अनुमति धडल्ले से वाहनों का परिचालन हो रहा है।इससे शहर में अव्यवस्था तो फैल ही रही है कोरोना गाइडलाइन की भी धज्जियां उड़ रही है।सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन नहीं होने से कोरोना संक्रमण बढ़ने का खतरा हमेशा बना रहता है।सरकार द्वारा वैश्विक महामारी कोरोना से खुद और समाज को बचाने के लिए लॉकडाऊन लगाया गया है।कोरोना संक्रमण के चेन को तोड़ने के लिए सोसल डिस्टेंसिंग और लॉकडाउन का अनुपालन करना तथा कराने की लगातार हिदायत दी जा रही है।

लेकिन राजगीर में लापरवाही सरकार और समाज दोनों तरफ देखी जा रही है।समाज द्वारा लापरवाही की जा रही है तो सरकार द्वारा गाइडलाइन का अनुपालन कराने में लापरवाही बरती जा रही है।राजगीर का बाजार हो या सब्जी मंडी सभी जगह प्रशासनिक आदेश तार-तार हो रहे हैं।गिरियक रोड चौराहा, अस्पताल मोड़, मेन बाजार, धर्मशाला रोड, बस स्टैंड, पटेल चौक, छबीलापुर रोड, बिहारशरीफ रोड सभी जगह एक जैसा ही नजारा दिखता है।सब्जी दुकान, दवा दुकान, फल दुकान, दूध दुकान, मछली दुकान, मीट – मुर्गा दुकान, जेनरल स्टोर एवं किराना दुकानों के साथ साथ सड़कों पर भी भारी भीड़ देखने को आये दिन मिलाता है।

पुलिस प्रशासन की हिदायत के बावजूद लोगों का घर से बाहर निकलना और भीड़ लगाना बदस्तूर जारी है।यह भीड़ संक्रमण को आमंत्रित करता है।कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव से आवाम को बचाव के लिए सरकार द्वारा लॉकडाउन घोषित किया गया है।बावजूद यहाँ के मुट्ठी भर लोग इस बात को नहीं समझ पा रहे हैं।वैसे लोगों को पुलिस भी नहीं समझा पा रही है. डीएम योगेन्द्र सिंह और एसपी हरिप्रसाथ एस के सख्त हिदायत के बाद भी स्थानीय अधिकारी इसे गंभीरता से नहीं ले रहे हैं। जिसके चलते लोग बेखौफ लॉकडाउन की धज्जियां उड़ाने से बाज नहीं आ रहे हैं।बुद्धिजीवियों का मानना है कि स्थानीय अधिकारियों की अनदेखी और लचर व्यवस्था के कारण राजगीर में लॉकडाउन तथा कोरोना गाइडलाइन की धज्जियां उड़ाई जा रही है।

Comments are closed.