राजगीर में सम्राट जरासंध की आदमकद प्रतिमा लगाने की मांग

फोटो – कार्यक्रम में शामिल अतिथि

रिपोर्ट;ब्यूरो राम विलास,नालंदा [ बिहार ]
राजगीर;- यहां के आरआईसीसी में मगध सम्राट जरासंध जयंती का आयोजन मंगलवार को किया गया. सुबह में सम्राट जरासंध की प्रतिमा के साथ प्रभात फेरी निकाली गई. यह प्रभात फेरी जरासंध की प्रतिमा स्थल से आरआईसीसी तक गाजे-बाजे के साथ गई. नालंदा सांसद कौशलेंद्र कुमार, जहानाबाद सांसद चंदेश्वर प्रसाद चंद्रवंशी, पूर्व मंत्री डॉ भीम सिंह, एमएलसी रामबली सिंह, पूर्व एमएलसी रीना यादव, पूर्व विधायक रवि ज्योति कुमार, जदयू नेता एवं दंत चिकित्सक डॉ धर्मेंद्र कुमार और प्रणब कुमार द्वारा दीप प्रज्वलित कर जयंती समारोह का उद्घाटन किया गया।

इस अवसर पर सांसद कौशलेंद्र कुमार ने कहा कि सम्राट जरासंध की महागाथा राजगीर के कण कण में है. उन स्थलों में जरासंध का अखाड़ा, बाबा सिद्धनाथ महादेव मंदिर आदि सूप्रसिद्ध है. एमपी चंदेश्वर प्रसाद चंद्रवंशी ने कहा कि पौराणिक नगरी राजगीर की नाम आज भी जरासंध की नगरी के नाम से जाना जाता है. उन्होंने कहा कि राजा जरासंध से जुड़े स्मारकों का जीर्णोद्धार और सौंदर्यीकरण से राजगीर पर्यटन में नया आयाम गढ़ा जा सकता है।

जदयू नेता एवं दंत चिकित्सक डॉ धर्मेंद्र कुमार ने कहा कि सम्राट जरासन्ध राजगीर के प्रतापी राजाओं में एक थे. उन्होंने उनका आदमकद प्रतिमा स्थापित करने की मांग की. समारोह में नालंदा के अलावे कई जिलों के लोग शामिल हुए थे।

Comments are closed.