रैली में बोले राहुल गाँधी – बिहार में फ्रंटफूट पर खेलेगी काँग्रेस

रिपोर्ट – रामनरेश ठाकुर
पटना: लगभग 28 साल बाद राजधानी पटना में आयोजित कांग्रेस की रैली में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम मोदी को करारा जवाब दिया। उन्होंने नए बजट में किसानों के लिए की गई घोषणाओं को किसानों का अपमान बताया। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार पूंजीपतियों के लिए तो खूब पैसे देती है, लेकिन किसानों को 17 रुपये देती है। एक किसान को साढ़े तीन रुपये देकर पीएम ने संसद में तालियां बजवाई। यह किसानों का अपमान नही तो और क्या है। प्रधानमंत्री पर प्रहार करते हुए कहा कि मोदी सरकार ने अमीर दोस्तों का काला धन सफेद किया। मोदी ने किसान को 17 रुपये देकर अपमान किया। नोटबंदी दुनिया का सबसे बड़ा घोटाला है। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि बिहार में भी फ्रंट फुट पर खेलेंगे। हम नरेंद्र मोदी वाली राजनीति नहीं करते। हम मन बना लेते हैं तो ऐतिहासिक कार्य करते हैं। नरेंद्र मोदी ने पिछले पांच साल में अरबपतियों को करोड़ों रुपये दिए। धन की कोई कमी नहीं है। जो यह चाहते हैं हो जाता है। देश की गरीब जनता देखती रह जाती है। सरकार बनने पर कांग्रेस सरकार देश के हर गरीब मिनिमम इनकम की गारंटी देगी। हर गरीब के बैंक अकाउंट में कांग्रेस पार्टी पैसा डालकर दिखाएगी। उन्होंने कहा, पीएम ने देश के जनता को लाइन में लगाया। मोदी की तरह नीतीश भी वादे करने में माहिर हैं। बिहार में लोकसभा और विधानसभा में गठबंधन की सरकार बनाने जा रहे हैं। यहां भाजपा या नीतीश जी को एक भी सीट नहीं मिलनी चाहिए। सारी सीटें कांग्रेस को मिलनी चाहिए। मंच से राहुल गांधी ने घोषणा किया कि केंद्र की सत्ता में आने के बाद पटना यूनिवर्सिटी को केन्द्रीय विश्वविद्यालय का दर्जा देंगे। वहीं राहुल गांधी ने रैली को ऐतिहासिक बताते हुए इस आयोजन के लिए बिहार प्रदेश कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को हार्दिक बधाई और धन्यवाद दिया। उन्होने कहा कि आज ये तय हो गया है कि बिहार में हमारी सरकार आने वाली है। रैली में महागठबंधन में शामिल कांग्रेस के अन्य सहयोगी राजद नेता तेजस्वी प्रसाद यादव, रालोसपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा, लोकतांत्रिक जनता दल प्रमुख शरद यादव, हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा के प्रमुख जीतन राम मांझी सहित कांग्रेस के बिहार के कई अन्य कद्दावर नेता शामिल हुए। राहूल गांधी ने रैली को संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस एक है, हम सब एकजुट है और हम एक होकर भाजपा और नीतीश को हटाएंगे। वहीं राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि लोकसभा चुनाव 2019 से पहले यह रैली देश को एक संदेश देगी। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने रैली में बोलते हुए कहा कि मैं करीब 30-35 साल बाद पटना आया हूं। यहां मौजूद जो लोग हम देख रहे हैं, वो राहुल गांधी को देखने आये हैं। राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने किसानों से किया कर्ज माफी का वादा निभाया। मोदी सरकार ने गंगा को साफ करने का वादा किया था मगर बैंक साफ कर दिए। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि आज छत्तीसगढ़ के किसान राहुल गांधी की वजह से खुश हैं। राहुल का मतलब है कि वादे पूरे होंगे। बिहार संघर्ष कर रहा है, यहां के किसान संघर्ष कर रहे हैं। बिहार फिर से खड़ा होगा, इसका मुझे विश्वास है क्योंकि हमारे नेता राहुल गांधी है। लोकतांत्रिक जनता दल के मुखिया शरद यादव ने कहा कि कांग्रेस सबसे पुरानी पार्टी है। कांग्रेस आजादी की पार्टी है और आज आजादी खतरे में है, देश खतरे में है। जिस संविधान के लिए हमनें कुर्बानी दी, वो खतरे में है। देश में अघोषित आपातकाल लागू है। इसलिए हमें एकजुट होकर मोदी सरकार को हटाना होगा। वहीं रैली में बोलते हुए तेजस्वी यादव ने कहा कि राहुल गांधी में प्रधानमंत्री बनने की क्षमता है। हमें भाजपा को हारने के लिए एकजुट होना होगा। नरेंद्र मोदी झूठ के सौदागर हैं। भाजपा दंगे करवा सकती है, इसलिए हमें सावधान रहना होगा। इससे पहले गांधी मैदान पहुंचकर राहुल गांधी ने मैदान में मौजूद महात्मा गांधी की प्रतिमा को नमन किया। वहीं विपक्ष रैली को पूरी तरह फ्लॉप बताया।

Comments are closed.