लॉकडाउन बाद सब्जियों के दाम में उछाल

फोटो – सब्जी बेचते दुकानदार

रिपोर्ट;ब्यूरो राम विलास राजगीर।
राजगीर; –लॉकडाउन के बाद खाने-पीने की वस्तुओं और राशन के दाम के साथ सब्जियों के दाम में भी काफी उछाल आया है. इससे ग्राहकों की जेब पर बोझ बढ़ गई है। आम आदमी की थाली से दाल और सब्जी दूर होने लगी है. आमद और खपत का गैप बढ़ने के कारण सब्जी विक्रेता भी इससे खुश नहीं है. पहले जैसी मात्रा में सब्जी अब नहीं बिकती है. दूसरी तरफ सेल के अभाव में सब्जियां सडकर बर्बाद हो रही है. सब्जी विक्रेता मनोज कुमार बताते हैं कि पहले टूरिस्ट आते थे और होटल खुला रहता था, तब वह एक गाड़ी सब्जी रोज बेचते थे. होटल बंद रहने के कारण सेल बहुत कम हो गया है. अब महीना में एक गाड़ी सब्जी बेचना मुश्किल हो गया है. रौशन कुमार बताते हैं कि लॉकडाउन के कारण ग्राहकों का बाजार में निकलना बहुत कम हो गया है. लोग दाल रोटी से ही काम चला रहे हैं. इस कारण सब्जियों की बिक्री बहुत प्रभावित हुई है. बिक्री कम होने के कारण बासी सब्जियां सड़कर बर्बाद हो रही है. इससे दुकानदारों को काफी नुकसान सहना पड़ रहा है. अनुज पंडित और राजेश पंडित बताते हैं कि आमद और खपत में काफी अंतर हो गया है. अब पहले जैसी सब्जी की बिक्री नहीं रह गई है. पहले लोग झोला भर कर सब्जी ले जाते थे. झोला भरकर सब्जी लेने वाले लोग पौआ – आधा किलो पर आ गए हैं. दूसरे दिन ही हरी मिर्च सहित कई सब्जियां सड़ने – गलने लगती है. इससे भी दुकानदारों को काफी नुकसान का सामना करना पड़ रहा है. ग्राहक निर्मल द्विवेदी बताते हैं कि बार-बार लॉकडाउन लगने से रोजी रोजगार बुरी तरह प्रभावित हुई है. काम-धंधा मिल नहीं रहा है. नमक रोटी पर आफत है। सब्जी के दाम आसमान छूने लगे हैं. अब सब्जी खाना आम आदमी के बस की बात नहीं रह गई है।

Comments are closed.