शहीदों के नाम पर राजनीति न करें देश के ठेकेदार: उपेन्द्र कुशवाहा

आशुतोष कुमार की रिपोर्ट
रोहतास: काश्मीर के पुलवामा में शहीद हुए वीर जवानों के चरणों मे मैं श्रद्धा सुमन अर्पित करता हूँ। शहीद वीर जवानो को याद करते हुए हमारी आँखे नम हो जाती हैं। लोकसभा चुनाव बहुत नजदीक आ गया हैं। इस चुनाव मे महागठबंधन के लोग बिहार के लोकसभा के 40 सीटो में से 40 सीट लाकर अपनी जीत सुनिश्चित करेंगे। इस सम्मेलन के माध्यम से लोगो की बातों को सुनना एवं अपनी बात कहना मजबूती से महागठबंधन के सभी पार्टियों के कार्यकर्ता एक साथ मिलकर काम करे एवं सभी लोग लगकर अबकी बार महागठबंधन की जीत सुनिश्चित करे। आज जो कुछ लोगो के द्वारा कोशिश हो रही है कि लोग देश भक्ति के ठेकेदार बने हुए हैं, उनको हम बताना चाहते हैं कि हिंदुस्तान का प्रत्येक नागरिक देशभक्त हैं। चाहे वह किसी पार्टी का सदस्य हो या ना हो उससे कोई फर्क नही पड़ता। हिन्दुस्तान का हर नागरिक देश भक्त हैं। इसलिए कुछ लोग देशभक्ति के नाम पर अपनी ठेकेदारी ना दिखावे और उस नाम पर आतंकवाद से जो घटना घटती हैं उसके नाम पर जवानों के शव के आधार पर उस पर राजनीति करके वोट हासिल करने का कोशिश न करे। उक्त बातें पूर्व केंद्रीय मंत्री सह रालोसपा सुप्रीमो उपेन्द्र कुशवाहा ने काराकाट प्रखण्ड के गोडारी खेल मैदान में आयोजित काराकाट विधानसभा महासम्मेलन में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कही। वहीं शिक्षा के गुणवत्ता पर सवाल करते हुए कहा कि केंद्र में मंत्री रहते हुए हमने सदन से सड़क तक लगातार आवाज उठाई हैं। बिहार सरकार से हमने केंद्रीय स्कूल खोलने के लिए जमीन मांगी थी, लेकिन बिहार सरकार ने अभी तक जमीन उपलब्ध नही कराई। न जाने क्यों बिहार सरकार केंद्रीय विद्यालय खोलने के लिए जमीन उपलब्ध कराने में देर की हैं। दस प्रतिशत सवर्णाे के आरक्षण पर समर्थन देते हुए उन्होंने कहा कि दस प्रतिशत आरक्षण देकर सवर्णाे को झुनझुना देने का काम केंद्र सरकार ने किया। लेकिन जब तक शिक्षा में सुधार नही होगा, तब तक दस प्रतिशत आरक्षण कामयाब नही होगा। सरकारी नौकरियों की संख्या घटती जा रही हैं। दो करोड़ लोगों को रोजगार देने का वादा किया गया था, लेकिन उनके द्वारा की गई सभी वादे फेल साबित होते दिख रही हैं। नौजवानों को निजी कंपनियों में आरक्षण देने का काम किया जाए। सम्मेलन की अध्यक्षता प्रदेश उपाध्यक्ष अखिलेश्ववर सिंह ने तथा संचालन उमेश कुशवाहा ने किया। रालोसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा ने कॉलेजियम सिस्टम का विरोध किया। नीतीश कुमार ने शिक्षा में सुधार की मांग पर जानलेवा हमला कराया। सम्मेलन में रालोसपा के प्रदेश सचिव राम परिखा सिंह, जिला अध्यक्ष रामचंद्र ठाकुर, सांसद प्रतिनिधि वीरेंद्र तिवारी, सिमा कुशवाहा, बसन्त चौधरी, वीरेंद्र कुशवाहा, मालती कुशवाहा, राजद जिला अध्यक्ष विजय मण्डल, नन्द जीत यादव सहित अन्य लोगो ने सभा सम्बोधित किया। इससे पूर्व रालोसपा कार्यकर्ताओ ने नासरीगंज प्रखण्ड के बरडीहा चौक पर रालोसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा का फूलमाला पहनाकर भव्य स्वागत किया। मौके पर रालोसपा के प्रदेश महासचिव शिवदत्त सिंह उर्फ कलक्टर सिंह, नासरीगंज प्रखण्ड अध्यक्ष अमित कुमार वर्मा, नगर अध्यक्ष डॉ०अमरेंद्र कुमार, प्रदेश सचिव रवि कुमार गांधी, जिला अध्यक्ष(किसान प्रकोष्ठ) गुड्डू उपाध्याय, संतविलास सिंह, राजद विधायक प्रतिनिधि हीरालाल सिंह, जिलापार्षद मनोज तिवारी, प्रभाकर सिंह, बबन यादव, जनार्धन यादव, हरिचरण कुशवाहा, अरुण कुशवाहा, अमरेंद्र पाण्डेय, अशोक कुशवाहा, शशिरंजन कुमार, राजेश यादव, मिथलेश सिंह, विजय कुमार एवम अन्य लोग मौजूद थे।

Comments are closed.