शिलान्यास कार्यक्रम को स्थगित करें ;-बिधायक

ब्यूरो रमेश शंकर झा समस्तीपुर बिहार।
समस्तीपुर:- जिले के स्थानीय विधायक अख्तरुल इस्लाम शाहीन ने सर्किट हाउस में प्रेस वार्ता को सम्बोधित करते हुए कहा कि जितवारपुर हाउसिंग बोर्ड मैदान में प्रस्तावित मेडिकल कॉलेज को जिला मुख्यालय से लगभग 26 km दूर सरायरंजन के नरघोघी में ले जाना न्यायसंगत व तर्कसंगत नहीं है। उन्होंने मुख्यमंत्री से आग्रह किया कि नरघोघी में कल के शिलान्यास कार्यक्रम को स्थगित किया जाय। उन्होंने कहा कि कल इसके विरोध में समस्तीपुर स्टेशन चौक स्थित गाँधी स्मारक परिसर में सुबह 09 बजे से दोपहर 01 बजे तक सत्याग्रह कार्यक्रम आयोजित कर मुख्यमंत्री के निर्णय का विरोध किया जाएगा। उन्होंने कहा की आज उन्होंने मुख्यमंत्री को एक पत्र लिख कर नरघोघी के शिलान्यास कार्यक्रम को स्थगित करने की मांग किया है। वहीँ प्रेस वार्ता में नगर परिषद् के सभापति तारकेश्वरनाथ गुप्ता, जिला राजद प्रवक्ता राकेश कुमार ठाकुर, प्रखंड अध्यक्ष उमेश प्रसाद यादव, जिला महासचिव रामकुमार राय, मुखिया राजीव राय, राजद नेता हरिश्चंद्र राय, मोo सना उर्फ चीना, नागमणि , रविन्द्र कुमार रवि, राकेश यादव, मनोज पटेल, ज्योतिष महतो, सूरज राय, राजेश कुमार सहित इत्यादि लोग उपस्थित थे। माननीय विधायक ने अपने पत्र में कहा है कि समस्तीपुर जिला मुख्यालय स्थित जितवारपुर के हाउसिंग बोर्ड के मैदान में प्रस्तावित मेडिकल कॉलेज तथा अभियंत्रण महाविद्यालय सभी मानकों के अनुरूप है। इसके लिए मैंने 02 बार आपसे मिलकर आग्रह कर चुका हूँ । बिहार विधानसभा में भी कई बार इस मुद्दे को उठाया हूँ तथा सम्बंधित पदाधिकारियों को दर्जनों पत्राचार कर चुका है। जितवारपुर हाउसिंग बोर्ड के मैदान में मेडिकल कॉलेज तथा अभियंत्रण महाविद्यालय की मांग को लेकर स्थानीय लोगो द्वारा कई बार आंदोलनों का शंखनाद भी किया गया है। आपने खुद भी मुझे भरोसा दिलाया था कि जितवारपुर के हाउसिंग बोर्ड मैदान में अवश्य अभियंत्रण महाविद्यालय की स्थापना की जाएगी। लेकिन ज्ञात सूत्रों व समाचार पत्रों के माध्यम से यह जानकारी प्राप्त हुई है कि दिनांक – 06/11/19 को जिला मुख्यालय से लगभग 26 Km दूर सरायरंजन प्रखंड के नरघोघी में मेडिकल कॉलेज का शिलान्यास श्रीमान के द्वारा किया जा रहा है तथा अभियंत्रण महाविद्यालय को भी सरायरंजन के नरघोघी में ही निर्माण कराए जाने की साजिश की जा रही है। यह न्यायोचित नहीं है आपके ‘न्याय के साथ विकास ‘ के दावे के बिल्कुल विपरीत है। यह दुर्भावना से प्रेरित व अन्यायपूर्ण पहलू है। यह सत्ता का दुरुपयोग, अलोकतांत्रिक तथा तानाशाही रवैया है तथा नैसर्गिक न्याय के सिद्धांत के खिलाफ है। महाशय , जितवारपुर हाउसिंग बोर्ड का मैदान मेडिकल कॉलेज के निर्माण हेतु भारतीय चिकित्सा परिषद् के मानक के अनुरूप है। हाउसिंग बोर्ड के मैदान में तीन तरफ से पक्की सड़क है, जिला मुख्यालय, थाना, अग्निशमन केंद्र, बस स्टैंड, सदर अस्पताल, रेलवे स्टेशन से मात्र 03 km की दूरी पर है। यातायात की सुगमता और कानून व्यवस्था के आलोक से भी हाउसिंग बोर्ड का मैदान बिल्कुल सही है। इस मामले को वो कई बार सदन में उठाया है तथा इसको लेकर आपको, स्वास्थ्य मंत्री तथा विभाग के प्रधान सचिव से मिलकर ज्ञापन भी दे चुका है। समस्तीपुर के तत्कालीन जिलाधिकारी के द्वारा बिहार सरकार को भेजे गए रिपोर्ट मे भी मेडिकल कॉलेज निर्माण हेतु जितवारपुर के हाउसिंग बोर्ड के मैदान की चर्चा है। विगत वर्ष दरभंगा में आयोजित समीक्षा बैठक में जितवारपुर के हाउसिंग बोर्ड के मैदान में अभियंत्रण कॉलेज भी खोलने का प्रस्ताव मेरे द्वारा आपको दिया गया था। जिसकी सहमति मुख्यमंत्री महोदय जी आपके द्वारा प्रदान भी की गई थी। तदुपरांत सारी प्रक्रियाओं को पूर्ण किया गया। जितवारपुर हाउसिंग बोर्ड में प्रस्तावित अभियंत्रण महाविद्यालय हेतु 7.5 एकड़ जमीन व्यावसायिक एम. वी. आर. की दर से गणित राशि लगभग 30 करोड़ रुपये को जमा करने की स्वीकृति दिनांक – 05/12/17 को ही दिया जा चुका है। किन्तु विगत 02 वर्षो से विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग तथा वित्त विभाग के द्वारा अब तक राशि का हस्तानांतरण नहीं किया जा सका है। श्री शाहीन ने स्वयं कई बार सम्बंधित विभाग के वरीय पदाधिकारियों से इस ओर राशि अविलम्ब भेजने के आग्रह किया गया, इसके बावजूद वित्त विभाग के द्वारा विगत 22 महीनो से फाईल को अनावश्यक रूप से रोक कर रखा जाना बेहद आश्चर्यजनक, दुर्भाग्यपूर्ण व निराशाजनक पहलू है। यह न्यायसंगत व तर्कसंगत नहीं है। माननीय मुख्यमंत्रीजी इस मामले में आपसे स्वयं हस्तक्षेप करने, अविलम्ब राशि उपलब्ध कराने तथा शीघ्र अभियंत्रण महाविद्यालय का निर्माण कार्य जितवारपुर के हाउसिंग बोर्ड के मैदान में प्रारम्भ कराने का आग्रह करता हूँ।अतएव सादर आग्रह है कि जनहित में व न्यायहित में दिनांक – 06.11.19 को सरायरंजन के नरघोघी में आहूत मेडिकल कॉलेज के शिलान्यास के कार्यक्रम को स्थगित किया जाय तथा मेडिकल कॉलेज व अभियंत्रण महाविद्यालय का निर्माण जननायक कर्पूरी ठाकुर के स्थानीय प्रखंड समस्तीपुर के जितवारपुर हाउसिंग बोर्ड के मैदान में कराया जाय।

Comments are closed.