शॉर्टसर्किट से लगी आग में नगद सहित लाखों की फर्नीचर -लकड़ी जलकर खाक

रिपोर्ट;ब्यूरो राम विलास,नालंदा।
राजगीर;-छबीलापुर थाना अंतर्गत छबीलापुर बाजार की एक फर्नीचर दुकान में मंगलवार की शाम अचानक भीषण आग लग गयी।इस अग्निकांड में नगद समेत करीब 12 लाख से अधिक की संपत्ति नुकसान होने की खबर है।आग की लपटें व धुंआ देखकर मोहल्ले वासी सकते में आ गए।देखते देखते आग बेकाबू हो गया।ऊंची ऊंची आग की लपटें उठने लगी।आसपास के लोगों द्वारा शोर मचा कर लोगों को बुलाया।इस घटना को लेकर बाजार में अफरा-तफरी मच गई। बाजार के लोगों द्वारा आग बुझाने का प्रयास किया गया, लेकिन वे सफल नहीं हो सके।

स्थानीय लोगों द्वारा घटना की सूचना दुकानदार, छबीलापुर थाना की पुलिस और फायर ब्रिगेड को दिया गया।आग की लपटे इतनी तेज थी कि कुछ ही समय में पूरी दुकान को अपने आगोश में ले लिया।सूचना मिलने के करीब एक घंटे बाद फायर ब्रिगेड की दो दमकल गाड़ी घटना स्थल पर पहुंची।तब तक दुकान की सभी फर्नीचर और लकड़ी एवं अन्य सामान जल कर राख हो चुका था।दमकल द्वारा आग बुझाया गया. दोगी निवासी फर्नीचर दुकानदार अर्जुन मिस्त्री के अनुसार संझा वत्ती करने के बाद छह बजे दुकान बंदकर वे घर चले गए थे।दुकानदार के अनुसार यह आग बिजली की शॉर्ट सर्किट से लगी है।दमकल पहुंचने के पहले ही दुकान में रखे सभी फर्नीचर, लकड़ी और फर्नीचर बनाने के औजार तथा मशीन जलकर राख और खाक हो गए थे।

दुकानदार अर्जुन मिस्त्री के अनुसार उनकी जय काली माता फर्नीचर दुकान में रखें 26 हजार नगद के अलावे ऑर्डर के 22 पलंग जल गए हैं।इसके अलावा छह बॉक्स पलंग, 56 किवाड़ , डेढ़ लाख की लकड़ी और लाखों रुपए के मशीन और औजार जलकर खाक हो गया है।उनके अनुसार करीब 10 लाख का नुकसान इस अग्निकांड में हुआ है।इनके अलावे जमीन मालिक संजय कुमार यादव को भी ढाई लाख से अधिक के नुकसान होने का अनुमान है।

उनकी ट्रक 709 आंशिक रूप से जल गया है. इसके अलावे कृषि संयंत्र, मवेशी चारा एवं अन्य सामान जल गए हैं. ग्रामीण प्रैक्टिशनर अर्जुन प्रसाद यादव ने बताया कि सीताराम चौधरी की गुमटी जलने से बच गई है।यह गुमटी जय काली माता दुकान के सामने थी।स्थानीय लोगों के द्वारा गुमटी को वहां से हटाकर सड़क के दूसरी ओर ले जाकर बचाया गया।वरना वह गुमटी भी इस अग्निकांड की भेंट चढ़ जाती।

Comments are closed.