सड़क पर उतरे स्कूली बच्चे, लगाए पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे


~शिक्षक व छात्रों ने शहर में निकाला कैंडल मार्च
~शहीद जवानों को दी गई श्रद्धांजलि
~छात्र-छात्राओं व शिक्षकों ने बदला लेने का किया मांग
~आक्रोशित लोगों ने हाफिज सईद और पाकिस्तान मुर्दाबाद के लगाए नारे

रिपोर्ट,मो.अंजुम आलम,जमुई (बिहार)
जमुई:-आतंकवादी द्वारा कायराना हमले में CRPF के 44 जवान शहीद होने के बाद पूरा देश शोक की लहर में डूब गया।उस वक़्त पूरे देश में मातम छा गया जिस वक्त हज़ारों जवान छुट्टी से अपने ड्यूटी पर लौट रहे थे।ठीक गुरुवार की शाम लगभग 3 बजकर 15 मिनट पर CRPF जवानों के काफिले पर आतंकवादियों ने हमला कर दिया।इस दर्दनाक हमला में 44 जवान की मौत हो गई जबकि कई अन्य जवान जिंदगी और मौत के बीच लड़ रहे हैं।अब सभी लोगों की आस एक ही ओर टिकी हुई है कि कब इसका बदला लिया जाएगा।पूरे देश के साथ-साथ जमुई जिला भी शोक के लहर में डूब गया।कई संगठनों के साथ-साथ कई स्कूल के शिक्षकों,छात्र-छात्राओं व युवाओं ने विरोध प्रदर्शन किया।

स्कूल के सैकड़ों छात्र-छात्राओं ने निकाला कैंडल मार्च
जमुई जिला मुख्यालय के रजिस्ट्री ऑफिस के नजदीक आवासीय बाल विकास उच्च विद्यालय के छात्र-छात्राओं ने कतारबद्ध होकर अपने स्कूल से विरोध मार्च निकाला,और सर्किट हाउस होते हुए कचहरी चौक पहुंचे। जहां स्कूली छात्र-छात्राओं ने हाफिज सईद मुर्दाबाद और पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाए। इस अवसर पर स्कूल के शिक्षकों के अलावे प्रधानाचार्य गौतम सिंह के साथ-साथ सैकड़ों की संख्या में स्कूली छात्रों ने हिस्सा लिया, वहीं, दूसरी ओर शहर के गांधीनगर स्थित आवासीय रामकृष्ण उच्च विद्यालय के सैकड़ों छात्राओं ने हाथों में बैनर पोस्टर लिए पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाए। सभी स्कूली बच्चे पढ़ाई खत्म होने के बाद हाथों में बैनर लेकर शहर के मुख्य चौराहों पर आक्रोश जुलूस निकाला और कश्मीर में हुए आतंकी हमले का विरोध कर हाफिज सईद मुर्दाबाद के नारे लगाए। इस दौरान प्रधानाचार्य रामाकांत सिंह के साथ स्कूल के शिक्षक औऱ सैकड़ों की संख्या में स्कूली छात्र-छात्राओं ने हिस्सा लिया।

निजी स्कूल के बच्चों ने शिक्षकों के साथ निकाला कैंडल मार्च
इधर शहीदों की शहादत को लेकर जिले के प्राइवेट स्कूल एण्ड चिल्ड्रेन एसोसिएशन के बैनर तले दर्जनों स्कूल के छात्र औऱ छात्राओं ने शिक्षकों के साथ कैंडल मार्च निकाला,इस दौरान हजारों की संख्या में स्कूली बच्चों ने हाथ में कैंडल लेकर शहर का भ्रमण किया और पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाए। वहीं, विभिन्न स्कूल के शिक्षकों ने भी हाथों में मोमबत्ती लेकर शहीदों को श्रद्धांजलि दी।कैंडल मार्च में शिक्षक रामविलास कुमार, प्राइवेट स्कूल वेलफेयर सोसायटी के कोषाध्यक्ष बी अभिषेक, अमित भलौटिया, इम्तियाज आलम, रजनीश कौशिक, धर्मेंद्र कुमार सिंह, खुर्शीद आलम, नितू गुप्ता, होली मिशन के प्राचार्य नरेन्द्र मंडल,होली मिशन की शिक्षिका निक्की परवीन समेत हजारों छोटे-छोटे बच्चों सहित आम नागरिकों ने भी इस जुलूस में अपना योगदान देकर शहीदों को श्रद्धांजलि दी।

Comments are closed.