सदर अस्पताल आने वाले मरीजों के लिए कोरोना जांच अनिवार्य

रिपोर्ट, मो. अंजुम आलम,जमुई (बिहार)
जमुई:- अब सदर अस्पताल में इलाज कराने आए मरीजों को पहले कोरोना जांच कराना अनिवार्य होगा। यह स्वास्थ्य विभाग द्वारा निर्णय लिया गया है। कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण को कम करने व इसे खत्म करने के लिए सरकार लगातार प्रयासरत है। इसको लेकर स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को भी विशेष दिशा- निर्देश दिया गया है।

सिविल सर्जन डा. विजयेंद्र सत्यार्थी ने बताया कि अब सदर अस्पताल सहित जिले के सभी सरकारी अस्पताल में इलाज कराने को लेकर आने वाले मरीजों का सर्वप्रथम कोरना जांच किया जाएगा। इसके बाद उनके संबंधित बीमारी का इलाज किया जाएगा। उन्होंने बताया कि इसके अलावे सभी पदाधिकारी, चिकित्सक, स्वास्थ्य कार्यकर्ता, स्वास्थ्य कर्मी, मरीज एवं उसके परिजन को नियमित रूप से मास्क लगाने की अनिवार्यता का निर्देश भी दिया गया है।

बिना मास्क के अस्पताल में रहने वालो पर कार्रवाई किया जाएगा। कोरोना के बढ़ते संक्रमण की रफ्तार को कम करने के लिए यह कदम उठाया गया है। इनदिनों लोगों के दिल-दिमाग से कोरोना का खौफ खत्म हो गया है। जिससे लोग लापरवाही की तरह इधर-उधर घूमते नजर आते हैं। दूसरे राज्यों में इसका प्रभाव काफी बढ़ गया है।

इसलिए सदर अस्पताल में भी स्वास्थ्य कर्मियों और मरीजों को गाइड लाइन का पालन करने का निर्देश दिया गया है। ओपीडी मरीजों के लिए सदर अस्पताल में अलग से कोरोना जांच की व्यवस्था की गई है। मरीजों को ज्यादा इंतेज़ार करना न पड़े इसके लिए फौरन रिपोर्ट देने की व्यवस्था की गई है।

Comments are closed.