समेकित कृषि प्रणाली को अपनाकर किसान लिखेंगे तकदीर का इबाबत

फ़ोटो दीप जलाकर रबी महोत्सव का उद्घाटन करते प्रमुख रविता तिवारी।

रिपोर्ट;– रेणु कुमारी, पूसा समस्तीपुर।
प्रखंड मुख्यालय पूसा स्थित ई-किसान भवन के सभागार में रबी महाअभियान सह कृषक प्रशिक्षण का आगाज हुई। जिसकी अध्यक्षता बीएओ अरुण कुमार चौधरी ने कहा कि बीजग्राम योजना के तहत बथुआ गावँ के चयनित 100 किसानों के लिए पीबीडब्लू 343 गेहूं का 40 कुइंटल बीज दिया जा रहा है। प्रखंड क्षेत्र के 70 किसानों को 74 रुपय में 20 किलोग्राम गेहूं का बीज मुहैया कराया जा रहा है। खासकर अन्य किसानों के लिए एचडी 2967 गेहूं प्रभेद का बीज 724 रुपय 40 किलोग्राम प्रति बैग अनुदानित दर पर उपलब्ध कराया गया है। अब कृषि विभाग के साइट पर अनुदानित बीज प्राप्त करने के लिए किसानों को ऑन लाइन आवेदन करना होगा।           महाअभियान में बतौर मुख्य अतिथि प्रमुख रविता तिवारी ने किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि अधिकारी पदाधिकारी सहित जनप्रतिनिधियों को अपनी मूलभूत दायित्व समझकर सरकारी योजनाओं के बारे में विस्तार से खेती के समय समय पर किसानों को जानकारी उपलब्ध कराने की जरूरत है। जिससे किसान व देश समृद्ध हो सकेगा। कृषि विज्ञान केंद्र बिरौली के पीसी डॉ रविंद्र कुमार तिवारी ने कहा राज्य के किसान समेकित कृषि प्रणाली को अपनाकर तक़दीर का इबाबत लिखने में कामयाब हो सकेंगे। एक एकड़ भूमि की उपलब्धता वाले किसान आधा एकर में तालाब खोदकर मत्स्य पालन, मुर्गी पालन, पशु पालन के अलावे बागवानी मिशन के तहत फलदार पौधा लगाकर अपनी आमदनी को दुगुना ही वरण चौगुआ भी करने में सफल हो सकते है। वहीं अपनी पशुओं से निकलने वाले गोबर से वर्मी कम्पोस्ट युनिट लगाकर कृषि क्षेत्र में मिशाल कायम कर सकते है। आगत अतिथियों का स्वागत करते हुए जदयू प्रखंड सचिव गोपाल पटेल ने कहा किसानों को अनुदान का रास्ता छोरकर नवीनतम एवं आधुनिक तकनीक प्राप्त करने की दिशा में पहल करने की आवश्यकता है। संचालन मुकेश कुमार देव ने किया। मौके पर कृषि समन्वयक सुभाष चंद्रा के अलावे उपप्रमुख रामपुकार महतो, कृषि तकनीकी अधिकारी आदित्य पांडेय, सरपंच मो असगर अली, मुखिया गीता देवी, ताराचंद मेहता, पंसस रंजीत शर्मा आदि मौजूद थे।

Comments are closed.