सुरक्षित नहीं है महिलाएं भय की जिंदगी जी रही है बेटियां:-विनीता प्रकाश

रिपोर्ट,मो.अंजुम आलम,जमुई (बिहार)
जमुई: शहर के कचहरी चौक स्थित अंबेदकर प्रतिमा स्थल पर महिलाओं की सुरक्षा को लेकर एक दिवसीय धरणा का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता राजद के जिला अध्यक्ष अशोक राम ने की। मुख्य अतिथि के रूप में धरना का नेतृत्व जिला परिषद अध्यक्ष विनीता प्रकाश ने की। मौके पर विनीता प्रकाश ने कही की हैदराबाद में एक महिला पशु चिकित्सक की दुष्कर्म के बाद निर्मम हत्या करने का मामला अभी ठंडा हुआ ही नहीं था कि बिहार में महिलाओं के साथ ऐसी कई घटनाएं हो चुकी । उन्होंने बताया कि 2-3 दिसंबर को बक्सर में भी एक महिला के साथ दुष्कर्म कर उसे जिंदा जला कर हत्या कर दी गई, 23 नवंबर को कैमूर में नाबालिक छात्रा के साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया गया। वहीं समस्तीपुर जमुई सहित विभिन्न कई जिलों में हत्या और दुष्कर्म की घटनाएं हुई लेकिन इसे काबू में करने के लिए अबतक बिहार सरकार पूरी तरह फेल हो चुकी है। सूबे में हर दिन 100 हटाएं, 50 दुष्कर्म के मामले सामने आ रहे है। बलात्कारियों को सरकार प्रोटेक्शन दे रही है।बिहार में मानव नहीं दानव राज आ गया है। बिहार का ढांचा पूरी तरह ढह गया है और मुख्यमंत्री अंहकार में जी रहे हैं। वहीं जिला परिषद अध्यक्ष विनीता प्रकाश द्वारा सभी दोषियों को फांसी दी जाए,  सभी गवाहों को पुलिस प्रोटेक्शन दी जाए, पीड़ित परिवार के सुरक्षा की गारंटी बिहार सरकार लें सहित अन्य विभिन्न मांगों को लेकर जिलाधिकारी के माध्यम से राज्यपाल को आवेदन भेजा गया। मौके पर अरुण कुमार चौहान अमर कुमार भगत, राजीव कुमार, रितु साव, श्याम सुंदर शर्मा, शिवशंकर तांती सहित बड़ी संख्यां में लोग मौजूद थे।

Comments are closed.