सैकड़ों शिक्षको ने किया आक्रोशपूर्ण प्रदर्शन

अमित वत्स की रिपोर्ट
सुपौल: जिला मुख्यालय मे अपने 42 सूत्री मांगो को लेकर सैकड़ों शिक्षकों ने प्रदर्शन किया। जिलाध्यक्ष पंकज कुमार के नेतृत्व मे नियोजित शिक्षकों ने सदर बाजार के विलियम्स स्कूल के ग्राउंड से रैली निकाल कर बाजार के विभिन्न मार्गाे का भ्रमण करते हुए समाहारणालय तक पहुचा जहां शिक्षकों ने नारेबाजी की और प्रदर्शन किया। .प्रदर्शन कर रहे शिक्षकों के मुख्य मांगो मे सातवें वेतन का एरियर भुगतान करने, चार माह से लंबित वेतन का भुगतान करने, पिपरा बीईओ को निलंबन सहित 42 सूत्री मांग को ले था। शिक्षकों के इस आक्रोश पूर्ण प्रदर्शन मे जहां सरकार विरोधी नारे लगाए, वही पिपरा के बीईओ पर शोषण, मनमानी ,तानाशाही, स्वेच्छाचारी और वरीय पदाधिकारी के आदेश की अवहेलना करने के आरोप में निलंबन करने की मांग किया, इस दौरान जिलाध्यक्ष श्री सिंह ने सरकार पर नियोजित शिक्षकों के साथ भेदभाव करने का आरोप लगाते हुए कहा कि सूबे के सभी महिला कर्मी को 180 दिन का मातृत्व अवकाश दिया जाता है। लेकिन नियोजित शिक्षिका को महज 135 दिन का मातृत्व अवकाश देना सरकार की गलत नीति को दिखाता है। कहा कि सरकार अविलंब शिक्षकों की सभी समस्याओं का समाधान करें, अन्यथा आंदोलन को और तेज किया जाएगा।रैली मे जिला संरक्षक सुनील यादव, जिला कोषाध्यक्ष अनिल कुमार व जिला कार्यालय सचिव एहतेशामूल हक ने अलावा सैकड़ों शिक्षक शिक्षिका शामिल थे।

Comments are closed.