हाजीपुर ट्रेन हादसा: रेलमंत्री व मुख्यमंत्री ने प्रकट की संवेदना, घटना स्थल पर पंहुचे राज्य व रेल के आला अधिकारी, राहत व बचाव कार्य जारी

सोनू मिश्रा की रिपोर्ट
पटना/वैशाली: बिहार के वैशाली जिले में रविवार तड़के बड़ा रेल हादसा हो गया। जोगबनी से दिल्ली के आनंद विहार जा रही सीमांचल एक्सप्रेस सहदेई बुजुर्ग के पास पटरी से उतर गई। हादसे में अब तक आठ लोगों के मरने की सूचना मिल चुकी है। कई यात्री घायल बताए जा रहे हैं। उन्हें नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इस बीच हादसे की वजह से इस रेलखंड पर अप व डाउन लाइन पर यातायात ठप है।

दुर्घटना के बाद राहत व बचाव कार्यों को लेकर रेल मंत्री लगातार रेलवे बोर्ड के संपर्क में हैं। उन्होंने रेल यात्रियों की मौत पर संवेदना प्रकट की है। साथ ही घायलों के शीघ स्वस्थ होने की कामना की है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी इस दुखद घटना को लेकर संवेदना प्रकट की है। मिली जानकारी के अनुसार ट्रेन तड़के 3.52 बजे मेहनर रोड से गुजरी थी। इसके बाद करीब 3.58 बजे सहदेई बुजुर्ग के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गई। दुर्घटना के कारणों का फिलहाल खुलासा नहीं हो सका है।

ट्रेन के नौ डिब्बों के पटरी से उतरने की खबर है। इनमें से तीन स्लीपर (एस-8, एस-9 और एस-10) हैं। एक जनरल कोच और एक एसी कोच (बी-3) भी पटरी से उतरे हैं। हादसे में एक डिब्बा पूरी तरह से पलट गया है। हादसे के बाद सहदेई बुजुर्ग स्टेशन पर एनडीआरएफ टीम पहुंची हुई है। क्रेन की मदद से ट्रेन के डिब्बों को काटकर यात्रियों को निकाला जा रहा है। सूचना मिलने पर वैशाली डीएम राजीव रौशन और एसपी मानवजीत सिंह ढिल्लों भी पहुंचे हुए हैं। सोनपुर और बरौनी जैसे आसपास के इलाकों से डॉक्टरों की एक टीम को हादसे की जगह पर भेजा गया है, ताकि घायलों को जल्द से जल्द इलाज मिल सके। इस बीच रेलवे ने हेल्पलाइन नंबर जारी कर दिए हैं।

राहत बचाव कार्य के लिए सोनपुर और बरौनी से ।राहत टीम को रवाना कर दिया गया है। हादसे के बाद बछवाड़ा-हाजीपुर सिंगल लाइन पर परिचालन रद कर दिया गया है।

पूर्व मध्य रेलवे ने जो हेल्पलाइन नंबर जारी किए हैं, हादसे के बाद सूत्रों से खबर है कि कटिहार के पास ट्रेन की कपलिंग टूट गई थी। इसके बावजूद रेलवे प्रबंधन ने बात को नजरअंदाज कर ट्रेन को रवाना कर दिया गया था। गौरतलब हो कि सीमांचल एक्सप्रेस में एक साथ दो ट्रेनें चलती है। जोगबनी से दिल्ली जाने वाली सीमांचल एक्सप्रेस और कटिहार के राधिकापुर से दिल्ली लिंक के लिए सीमांचल एक्सप्रेस चलती है। कटिहार में दोनों गाड़ियां एक हो कर दिल्ली जाती है। लोगों का कहना हैं ट्रेन की बोगी काफी जर्जर हो चुकी थी फिर भी रेलवे का उसपर ध्यान नहीं था। जिसका खामियाजा लोगों को आज जान देकर चुकानी पड़ी है। सीमांचल एक्सप्रेस रेल दुर्घटना के संबंध में रेल मंत्री रेलवे बोर्ड के सदस्यों और जीएम ईसीआर के संपर्क में हैं। पीयूष गोयल ने ट्वीटकर कहा कि राहत और बचाव कार्य जारी है। उन्होंने इस दर्दनाक हादसे में मासूमों की जान जाने पर गहरा दुख व्यक्त किया है और घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की है। बिहार के वैशाली में हुए रेल हादसे पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दुख जताया है। सीएम ने परिजनों के प्रति गहरी संवेदना जताई सीएम ने परिजनों से धैर्य रखने की अपील की, नीतीश कुमार ने हादसे पर दुख जताते हुए कहा तमाम प्रशासनिक अधिकारियों को हर संभव मदद पहुंचाने का निर्देश दिया है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अधिकारियों को निर्देश दिया है कि घायलों को हर संभव मदद जल्द से जल्द पहुंचाई जाए। हाजीपुर के पास सीमांचल एक्स. के दुर्घटनाग्रस्त होने पर दुख जताते हुए बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि पीएमसीएच और एनएमसीएच को अलर्ट कर दिया गया है। पीएमसीएच में घायलों के इलाज के लिए तत्काल 20 बेड को सुरक्षित कर दिया गया है। श्री मोदी ने आज पटना में रैली का आयोजन करने वाली कांग्रेस से अपील किया है कि सड़कों को बधरहित रखें ताकि घायलों को लेकर आने वाली एम्बुलेंस जाम में नहीं फंसे।

Comments are closed.