अन्ना हजारे सामाजिक कार्यकर्ता के स्वास्थ्य पर चिंता जताई :-उद्धव ठाकरे


आर.पी.मौर्या
मुंबई | शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने रविवार को भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व वाली महाराष्ट्र सरकार से अन्ना हजारे की भूख हड़ताल में हस्तक्षेप करने की और ठाकरे ने एक बयान में 81 वर्षीय सामाजिक कार्यकर्ता के स्वास्थ्य पर चिंता जताई है | केंद्र और महाराष्ट्र में भ्रष्टाचाररोधी लोकपाल की तत्काल नियुक्ति की मांग को लेकर हजारे के अनिश्चिकालीन अनशन का रविवार को पांचवां दिन है और उन्होंने प्रधानमंत्री कार्यालय के उस कथित पत्र को निंदनीय और हास्यास्पद बताया जिसमें हजारे के अच्छे स्वास्थ्य की कामना भी की गई है।
उद्धव ठाकरे ने कहा कि हजारे को नई क्रांति लाने में जयप्रकाश नारायण की भूमिका निभानी चाहिए और कार्यकर्ता जीडी अग्रवाल ने स्वच्छ गंगा और नदी के निर्बाध रूप से बहते रहने की मांग को लेकर हरिद्वार में बड़ा आंदोलन किया था। सरकार ने स्थिति पर ध्यान नहीं दिया और प्रफेसर अग्रवाल को मरने दिया। अन्ना को अपना अनशन खत्म करना चाहिए और अपनी मांगों को लेकर एक आंदोलन की अगुवाई करनी चाहिए तथा मैं शिवसेना के समर्थन का आश्वासन देता हूं |

Comments are closed.