तेज़ रफ़्तार ट्रक ने साइकिल सवार मज़दूर को कुचला,मौके पर हुई मौत


रिपोर्ट,मो.अंजुम आलम,जमुई (बिहार)
जमुई:-जमुई-मलयपुर मुख्य मार्ग के पतौना पुल पर शुक्रवार की अहले सुबह तेज़ रफ़्तार ट्रक ने सायकिल सवार मज़दूर को कुचलते हुए फरार हो गया।जिस क्रम में मज़दूर की मौत घटना स्थल पर ही हो गई।मृतक मज़दूर की पहचान बरहट थाना क्षेत्र के मांगो टोला निवासी वीरो माँझी के पुत्र रूपल माँझी के रूप में हुई है।बताया जाता है कि मृतक हमेशा की तरह शुक्रवार की सुबह सायकिल पर लकड़ी लेकर जमुई बेचने जा रहा था जिस दौरान पतौना के समीप क्यूल नदी के पुल पर तेज़ रफ़्तार ट्रक ने सायकिल सवार मज़दूर को बुरी तरह कुचल दिया।दुर्घटना इतनी दर्दनाक थी कि हादसा के बाद मज़दूर का शव पूरी तरह क्षत-विक्षत हो गया।

इधर शव को देखते ही परिजन व ग्रामीण आक्रोशित हो गए।और जमुई-मलयपुर मुख्य मार्ग को पतौना पुल पर घटना स्थल के समीप जाम कर दिया।आक्रोशित ग्रामीण सड़क जाम कर मुआवजे की मांग को लेकर घंटों अड़े रहे।सूचना के बाद मौके पर पहुंचे बरहट बीडीओ अंजेश कुमार,जमुई बीडीओ चिरंजीवी कुमार,सदर थानाध्यक्ष राजेश शरण और मलयपुर थानाध्यक्ष राजेश कुमार द्वारा जाम कर रहे लोगों को समझा-बुझा कर जाम हटवाने की कोशिश की गई लेकिन आक्रोशित लोगों पर इसका कोई असर नहीं हुआ।सभी लोग डीएम के आने व मुआवजे की मांग को लेकर अड़े रहे।घंटों कड़ी मुशक्कत के बाद बरहट के बीडीओ अंजेश कुमार द्वारा 20हज़ार रुपया पारिवारिक सहायता राशि और आवास योजना देने के आश्वासन पर जाम को हटवाया गया।वहीं मुखिया द्वारा कबीर अंत्येष्टि के तहत 3000 रुपये परिजन को दिया गया।हालांकि सड़क जाम से लगभग दो घंटे तक यात्री परेशान होते रहे।दोनो तरफ वाहनों की लंबी कतार लगी रही।यहां तक कि न्यायालय की कैदी वाहन भी इस भीड़ में फंसी रही।जाम की वजह से कई लोगों की ट्रेन छूट गयी तो कई लोगों को अपने मंज़िल तक पहुंचने में विलंब हुई।

Comments are closed.