21 दिनों के बाद भी गायब छात्र रितिक का नहीं चल सका कोई सुराग,आक्रोशित ग्रामीणों ने किया सड़क जाम

~गायब छात्र रितिक की बरामदगी को लेकर जमकर बवाल काटा
~आक्रोशित ग्रामीणों ने सड़क पर अगजनी कर प्रशाशन के खिलाफ जमकर की नारेबाजी
~24 घंटे के अंदर पुत्र की नहीं हुई बरामदगी तो आमरण अनशन पर बैठेगी माँ पुष्पा देवी

रिपोर्ट,मो.अंजुम आलम,जमुई (बिहार)
जमुई। शहर के बायपास रोड स्थित कोचिंग में पढ़ाई के लिए गए 16 वर्षीय छात्र रितिक कुमार 7 फरवरी को अचानक लापता हो गया।जिसकी सूचना परिजन द्वारा सदर थाना में देने के 21 दिन के बाद भी गायब छात्र का कुछ पता नहीं चल पाया है।पुलिस की लापरवाही व उदासीन रवैये से परेशान रितिक के माता-पिता ने पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए कहा कि पुलिस इस ओर कुछ ध्यान नहीं दे रही है अगर पुलिस ईमानदारी से थोड़ी भी ध्यान देती तो बहुत पहले गायब छात्र का पता चल जाता।बताते चलें कि घटना के 21 दिन बीत जाने के बाद भी जब रितिक का कुछ पता नहीं चल सका तो परिजन व ग्रामीण सुबह 10बजे जमुई-लखीसराय मुख्य मार्ग स्थित कुंदरी सनकुरहा गांव के पास सड़क जाम कर दिया और साथ ही आक्रोशित ग्रामीणों ने सड़क पर आगजनी कर जमकर बवाल काटा।वहीं आक्रोशित ग्रामीण रितिक की तालाशी के लिए गुहार लगाते हुए पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की।लोगों का आक्रोश इतना अधिक था कि वे रितिक की बरामदी के अलावा कोई बात सूनने को तैयार नहीं थे।
इधर घंटों जाम की वजह से सड़क के दोनों ओर वाहनों की लम्बी कतार लग गई थी।जाम के वजह से घंटों यात्री परेशान होते रहे।साढ़े चार घंटे बाद जाम स्थल पर एसडीओ लखीन्द्र पासवान और एसडीपीओ रामपुकार सिंह आक्रोशित ग्रामीणों को समझा-बुझा कर बड़ी मुशक्कत के बाद भी लोग जाम को हटाने के लिए तैयार नहीं हो रहे थे।वहीं एसडीओ और एसडीपीओ द्वारा लोगों को जल्द से जल्द लापता रितिक को बरामद करने का आश्वासन दिया तब जाकर बड़ी मुशक्कत के बाद सड़क जाम हटाया जा सका।लेकिन रितिक की माँ पुष्पा देवी और पिता विजय सिंह ने पदाधिकारियों से कहा कि अगर मेरे पुत्र को 24 घंटे के अंदर बरामद नहीं किया गया तो दोनो पति-पत्नी आमरण-अनशन पर बैठ जाएंगे।

से शहर के अतिथि पैलेस चौक स्थित वीर कुंवर सिंह कॉलोनी में अपने घर में रह कर पढ़ाई करता था।लापता रितिक के पिता विजय सिंह ने बताया कि 7 फरवरी को उनका पुत्र रितिक ज्ञान गंगा कोचिंग सेंटर में पढ़ाई करने के लिए गया था और लौट कर वह वापस नहीं आया।घर वाले सभी रिश्ते-नाते में उसकी खोजबीन की लेकिन कुछ पता नहीं चला। थक-हार कर रितिक की मां पुष्पी देवी के द्वारा अपने पुत्र के लापता होने की शिकायत टाउन थाने में दर्ज कराई। घटना के तीन दिन बाद भी जब पुलिस द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गई तो परिजन शहर के सीसीटीवी कैमरे को खंगालना शुरू किया लेकिन रितिक का कहीं से कुछ भी पता नहीं चल सका।
अपने पुत्र की तलाश के लिए रितिक के पिता विजय सिंह एवं उसकी मां पुष्पी देवी ने बताया कि वे अपने पुत्र की तालाशी के लिए लगातार कभी टाउन थाना,कभी एसपी कार्यालय का चक्कर काटते रहे। पिता विजय सिंह बताते हैं कि लगातार अधिकारियों के कार्यालय का चक्कर काटने के बाद भी पुलिस द्वारा उनके पुत्र की तालाशी नहीं की जा रही थी, उनका पुत्र पिछले 21 दिन से लापता है लेकिन पुलिस इस दिशा में कुछ नहीं कर रही है। पुलिस के लापरवाह रवैये के कारण ही आज ग्रामीण आक्रोशित हुए और सड़क पर उतरने को मजबूर हो गए।

Comments are closed.