मोदी की मेरठ रैली में ‘शराब’ पर अखिलेश और कांग्रेस का पलटवार


ऋषी तिवारी
नई दिल्ली। पीएम मोदी ने गुरुवार को यूपी के मेरठ और उत्तराखंड के रुद्रपुर में रैलियों के जरिए अपने चुनावी अभियान का शंखनाद किया और इसी के साथ 2019 के सियासी ‘महासंग्राम’ का भी आगाज हो गया। पीएम मोदी ने एक तरफ जहां मेरठ रैली में यूपी में महागठबंधन की तुलना शराब से की और कांग्रेस के न्यूनतम आय के वादे पर तंज कसा तो दूसरी तरफ कांग्रेस और समाजवादी पार्टी ने भी उन पर पलटवार किया। कांग्रेस ने जहां पीएम मोदी से गरीबों का मजाक उड़ाने के लिए माफी की मांग की, वहीं अखिलेश यादव ने यह कहकर मोदी पर हमला बोला कि नफरत को बढ़ावा देने वालों को सराब और शराब का अंतर तक नहीं पता।
पीएम मोदी ने कहा कि मैं किसी तरह का बोझ लेकर नहीं चलता। मेरे पास अपना क्या है? जो कुछ भी है वो देश का दिया हुआ है। जो देश ने दिया, जितना दिया है वो बहुत अधिक है। इन लोगों की राजनीति तभी चलती है जब देश कमजोर रहे, जब देश के लोग बंटे रहें, समाज में दीवारें हों। ये सिर्फ अपना और अपने परिवार का स्वार्थ देखते हैं, सबका साथ-सबका विकास नहीं। यहां मेरठ में जो विरोधी दलों के उम्मीदवार हैं उन्होंने आतंकवादियों के लिए करोड़ों रुपए के ईनाम तक का ऐलान कर दिया था। सोचिए, महामिलावट के लिए ये लोग किस हद तक जा सकते है। सामान्य वर्ग के गरीबों को 10 प्रतिशत आरक्षण देने का ऐतिहासिक फैसला हमने लिया है।एक तरफ दमदार चौकीदार है, तो दूसरी तरफ दागदारों की भरमार है।
अपना भ्रष्टाचार चालू रखने के लिए सभी यहां यूपी में भी एकजुट हो गए हैं। जिस पार्टी के नेताओं को जेल भेजने के लिए बहनजी ने दो दशक लगा दिए अब उन्‍होंने उन्‍हें गले लगा लिया। गेस्ट हाउस में उनके प्राण ले लेने पर आमादा लोग अब गलबहियां कर रहे हैं। बुआ-बबुआ की तेजी गजब है भई, इन लोगों के लिए सत्‍ता से बड़ा कुछ नहीं है। सपा- बसपा का बोर्ड बदलने (गठबंधन) से दुकानें नहीं बदलतीं। कैराना, मुजफ्फरनगर आदि जगहों पर गुंडागर्दी आप भूले नहीं होंगे। क्या तर्क है कि तीन तलाक होने से मुस्लिम महिला की जान सुरक्षित रहती है, ऐसी सोच वाले लोगों को आप क्या कहेंगे। आप सभी 11 अप्रैल (यूपी की आठ सीटों पर प्रथम चरण का मतदान इसी दिन) को वोट देने घर से जरूर निकलें।
बसपा के शासन में चीनी मिलों को अपने करीबियों को बेच दिया गया था। गन्ना किसानों को सपा शासन में अपना पैसा पाने के लिए रोना पड़ता था। उनके शासन का बकाया 35000 करोड़ रुपया योगी आदित्यनाथ सरकार ने अपने शासनकाल में गन्ना किसानों को अदा किया है। जिनका अभी कुछ बकाया है, उन्हें भी उनका बकाया अदा किया जाएगा। उन्होंने कहा कि आज देश में तो संकल्प सिद्ध करने वाली सरकार, सर्जिकल स्ट्राइक वाली सरकार है। उनके सर्जिकल स्ट्राइक का जिक्र करते ही भीड़ ने गगनभेदी नारे लगाए मोदी…मोदी। प्रधानमंत्री ने कहा कि वन रैंक वन पेंशन की मांग पूरी करने वाली सरकार यही है। इस मौके पर तमाम कल्याणकारी योजनाओं का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि जब मैं बैंक खाते खुलवाता था तो लोग कमेंट करते थे कि बैंक कहां हैं। हमारी सरकार ने यह काम कर दिखाया। बताइए, इस देश में जो लोग 70 वर्ष में आपका बैंक खाता नहीं खुलवा सके, वो आपके खाते में पैसा पहुंचने देंगे क्या।
पीएम मोदी ने कहा कि मेरठ में ही कुछ महामिलावटी लोगों ने आतंकियों की मदद की। आप सभी बेहतर जानते हैं कि ‘उस दौर में’ मेरठ में बेटियों की इज्जत सुरक्षित नहीं थी। यहां पर अपराधियों का बोलबाला था। जब योगी आदित्यनाथ जी की सरकार आई तब जाकर सारी अराजकता खत्म हुई। अब अराजकों के लिए फांसी तक का प्रावधान किया गया है। अगर इन महाममिलावटी लोगों को दोबारा मौका मिला तो देश फिर पुराने दिनों में, रसातल में चला जाएगा। अपने ही अंदाज में पीएम मोदी ने कहा कि महामिलावटी अब रोते फिर रहे हैं।  आज महामिलावटी लोग पाकिस्तान में छाए हुए हैं, वहां के अखबारों में यह लोग सुर्खियां बने हैं, वहां इनके नाम की तालियां बज रही हैं। अब तो देशवासियों, तय करें कि आपको हिंदुस्तान का हीरो चाहिए कि पाकिस्तान का। उन्होंने कहा कि सर्जिकल तथा एयर स्ट्राइक पर देशवासियों, हमें सुबूत चाहिए कि सपूत चाहिए …तय करें। जो सुबूत मांगते हैं वो सपूत को ललकारते हैं।

पीएम मोदी ने उज्ज्वला, पीएम आवास समेत अन्य कल्याणकारी योजनाओं का जिक्र किया। इसके साथ स्वरोजगार की दिशा में किए गए काम गिनाए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन में सीएम योगी आदित्यनाथ के संबोधन को ऊर्जावान संबोधन बताया। उन्होंने कहा यह जनसैलाब बता रहा है कि अगली सरकार बनने जा रही है । मैं सभी साथियों का आभार व्यक्त करता हूं। उत्साहित भीड़ को देख गदगद मोदी ने अपने भाषण का शुभारंभ किया। उन्होंने सुकमा-छत्तीसगढ़ व पुलवामा-कश्मीर में शहीद हुए मेरठ के शहीदों को नमन करने के साथ चौधरी चरण सिंह को नमन किया। पीएम मोदी ने कहा कि चौधरी साहब ने देश और किसान को खूब मजबूत किया।

Comments are closed.