राहुल गांधी शहीदों और देश की जनता से मांगे माफी : अमित शाह


ऋषी तिवारी
नई दिल्ली। सैम पित्रोदा के बयान को लेकर बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह ने शनिवार को कांग्रेस पर करारा हमला बोला और उन्‍होंने अपना रुख स्‍पष्‍ट करने की बात कही है। यह कांग्रेस की तुष्टिकरण की राजनीति है और उन्हीं के इशारों पर यह बयान दिलवाया गया है। अमित शाह ने सैम पित्रोदा के इस बयान के लिए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से माफी की मांग की है और क्या पुलवामा हमला कोई आम घटना है? क्या इसके जवाब में एयर स्ट्राइक नहीं करना चाहिए था? कांग्रेस और उसके नेताओं ने सेना का अपमान किया है। कांग्रेस के इस गैरजिम्‍मेदाराना बयान से देश की सुरक्षा पर सवालिया निशान खड़ा हुआ है और दुश्‍मनों का मनोबल बढ़ा है।
शाह ने कहा है कि यह सब कांग्रेस की रणनीति का हिस्‍सा है। मैं मानता हूं कि देश की जनता सब समझ चुकी है और कांग्रेस अध्‍यक्ष को इसके लिए माफी मांगनी चाहिए। सैम पित्रोदा के बयान में निजी क्‍या है? निजी क्‍या होता है? क्‍या देशहित को भी पीछे छोड़ दिया जाएगा। कांग्रेस तुष्‍टिकरण की राजनीति के तहत ऐसा करती है।
10 साल तक कांग्रेस की सरकार रही है और कांग्रेस ने आतंकवाद पर कोई कार्रवाई नहीं किया। बीजेपी की नरेंद्र मोदी सरकार बनने के बाद जीरो टोलरेंस की नीति अपनाई गई है। हमारी सरकार ने सबसे अधिक आतंकवादियों को मार गिराया है। हम डटकर आतंकवाद के खिलाफ खड़े हुए हैं। मोदी सरकार की कूटनीति की सफलता का ही परिणाम है कि पूरी दुनिया भारत के साथ खड़ी है और पाकिस्‍तान अकेला पड़ गया है।

Comments are closed.