छत्तरपुर ऑटोवालों की मनमानी


ऋषी तिवारी
नई दिल्ली। छत्तरपुर में ऑटो वालो की मनमानी दिन का दिन बढ़ती जा रही जिसमे मेट्रो स्टेशन से राजपुर खुर्द तक छोड़ने के १०० से ज्यादा रुपये लिए जाते है और महिलाओ से बत्तमीजी जे पेस आते है।

छतरपुर में ऑटो वालो की मनमानी बानी रहती मेट्रो स्टेशन पर उतरने के पैसे लेते है और ये पैसेंजर को मेट्रो स्टेशन से पहले डरा धमका कर उतार देती है कितने लोग सुबह डरते है और रात के वक्त उन महिलओ को बैठने के लिए हर एक ऑटो वाला मन कर देता है या बैठने के लिए उनसे १० के बदले २० से ५० रुपये लिए जाते है। जिसमे उन्हें छतरपुर में खड़े आरटीओ वाले भी साथ देते है। इस सहोग से महिलाओ,वृदो और बच्चो को कितने कठिनाओ का सामना करना पड़ता है। इस पर न तो सरकार कोई ध्यान दे रही ना वह के आरटीओ अफसर जिसके करन रिक्शा वालो की मनमनमानी बढ़ती चली जा रही है दिल्ली में हर जगा से ऑटो वालो की मनमानी बानी हुई है। जिसमे आरटीओ वालो को इसपर ध्यान देना चाहिए।
जिसमे आरटीओ वाले ध्यान न देकर ऑटो वालो का सहयोग ही करते नजर आते है, जिससे महिलाओ को काम पर आने जाने में तकलीफो का सामना करना पड़ता है।

Comments are closed.