संयुक्त छापेमारी में होटल से बिहार के दस शराब माफिया गिरफ्तार

 

सोनू मिश्रा, संवाददाता
झारखंड। देवघर जिला अंतर्गत नगर थाना क्षेत्र के शीतल मल्लिक रोड स्थित होटल महामाया पैलेस में शुक्रवार सुबह बिहार के मुजफ्फपुर जिला के बोचाहा थाना की पुलिस ने स्थानीय पुलिस के सहयोग से छापेमारी की। छापेमारी टीम का नेतृत्व एसपी नरेंद्र कुमार सिंह के निर्देश पर एसडीपीओ विकास चंद्र श्रीवास्तव ने किया। इस संयुक्त छापेमारी में पुलिस ने होटल से बिहार के दस शराब माफियाओं को गिरफ्तार किया। पकड़े गए शराब माफियाओं के पास नकदी भी बरामद किया गया है।

हालांकि कितनी राशि बरामद की गई, इसकी कोई जानकारी उपलब्ध नहीं हो सकी है। पकड़े गए शराब माफियाओं में राजेश कुमार, चंदन कुमार, अनिल कुमार साह, अर्जुन साहनी, सचिन कुमार, सुधीर कुमार महतो उर्फ मंडल, हरि राय, विनीत कुमार, सच्चिदानंद कुमार और पिटू कुमार का नाम शामिल है। गिरफ्तार सभी आरोपी बिहार के रहने वाले हैं। बिहार में शराब पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने के बाद बड़े पैमाने पर कालाबाजारी की जा रही है। शराब माफिया देवघर से शराब खरीदकर बिहार लेने जाने में जुटे हुए हैं। खासकर सीमावर्ती इलाके में देवघर से शराब खरीद कर बिहार ले जाने का सिलसिला लगातार जारी है। मुजफ्फरपुर के बोचाहा थाना की पुलिस ने इसी मामले में एक आरोपित को गिरफ्तार किया था।

पूछताछ में मिली जानकारी के आधार पर पुलिस टीम यहां छापेमारी करने पहुंची थी। बहरहाल गिरफ्तार शराब माफियाओं को बिहार पुलिस अपने साथ ले गई। देवघर से लाखों का होता है कारोबार : सूत्रों की माने तो बिहार से बड़ी संख्या में शराब कारोबारी देवघर आते हैं। यहां विभिन्न दुकानों से लाखों रुपये का शराब की खरीदारी की जाती है। बाद में रात के अंधेरे में शराब को बिहार ले जाया जाता है। जबकि थाना की गश्ती दल, सैट व पीसीआर वैन से लगातार इलाके में भ्रमणशील रहती है। बावजूद शराब को बिहार ले जाना कहीं ना कहीं पुलिस की कार्यशैली पर सवालिया निशान लगाता है।

 

Comments are closed.